myjyotish

9818015458

   whatsapp

8595527218

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Astrology Services ›   Puja ›  

Ganga Dussehra 2020 Online Puja Service

गंगा दशहरा पर हरिद्वार गंगा घाट पर कराएँ 10 महादान- पाएँ 10 पापों से मुक्ति - 1 जून 2020

By: माई ज्योतिष विशेषज्ञ

Rs. 1,500
Buy Now

निम्मिन प्रकार के पापों से मिलती है मुक्ति :-

शारीरिक पाप :-

  • किसी दूसरे की वस्तु लेना
  • शास्त्र वर्जित हिंसा 
  • परस्त्री गमन 

वाणी पाप :-

  • कटु बोलना
  • असत्य भाषण 
  • पीठ पीछे किसी की निंदा करना 
  • निष्प्रयोजन बातें करना 

मानसिक पाप :-

  • परद्रव्य को अन्याय से लेने का विचार करना
  • मन में किसी का अनिष्ट करने की इच्छा करना 
  • असत्य हठ करना

हिन्दू धार्मिक मान्यताओं के अनुसार यह पर्व जेष्ठ माह की शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को पड़ता है। गंगा दशहरा का पर्व माँ गंगा के पृथ्वी पर अवतरण के लिए हर साल माँ गंगा घाट , हरिद्वार में मनाया जाता है। इस दिन समस्त पापों का विनाश हो जाता है। व्यक्ति के जीवन में व्यथा का वास नहीं होता है। अधूरे कार्यों की पूर्ति के लिए गंगा पूजन बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। इस पूजन में विशेष रूप से 10 अलग - अलग पापों से मुक्ति मिलती है। यह पाप जाने - अनजाने या तो शरीर , मन या वाणी के माध्यम से व्यक्ति सक्षम करता है। इसमें 3 प्रकार के पाप मानसिक होते है अथवा 4 वाणी द्वारा किए हुए एवं 3 देह द्वारा किए हुए। जिसके लिए उसे भारी दंड का भागी भी होना पड़ता है। परन्तु गंगा दशहरा पूजन को करने से यह पाप दूर होते है एवं उसे कोई कष्ट भी नहीं भोगना पड़ता। इस दिन माँ गंगा के पूजन से पुण्य की प्राप्ति होती है। इस दिन माँ गंगा के पूजन का विशेष महत्व माना जाता है। 

गंगा दशहरा के दिन निम्मिन वस्तुओं का दान होता है महत्वपूर्ण 

  • खरबूजा 
  • सत्तू 
  • शर्बत  
  • फूल 
  • दीपक 
  • पान का पत्ता 
  • इत्र 
  • हाथ का पंखा 
  • जौ 
  • तिल

हरिद्वार की धरती बहुत पावन है। यह देवभूमि के नाम से भी जाना जाता है। गंगा दशहरा की पूजा हरिद्वार की माँ गंगा के रूप के समक्ष करने से व्यक्ति के जीवन से समस्त कष्ट दूर हो जातें है। पौराणिक कथनों के अनुसार महादेव ने माँ गंगा को अपनी जटाओं में भर लिया था। यदि कोई व्यक्ति जीवन की विकट परिस्थितियों से बहुत परेशान है और उनसे छुटकारा चाहता है तो उसे यह पूजन अवश्य ही करना चाहिए। यह पूजा उसके लिए बहुत ही लाभदायक प्रमाणित होती है।

हमारी सेवाएं :-
हमारे युगान्तरित पंडित जी द्वारा  आपके नाम से माँ गंगा का पूर्ण विधि -विधान से पूजन किया जाएगा। एवं यह 10 सामग्री दान स्वरुप माँ गंगा को अर्पण की जाएगी।  

जानिये हमारे पंडित जी के बारे में

Recent Blogs



Ratings and Feedbacks


अस्वीकरण : myjyotish.com न तो मंदिर प्राधिकरण और उससे जुड़े ट्रस्ट का प्रतिनिधित्व करता है और न ही प्रसाद उत्पादों का निर्माता/विक्रेता है। यह केवल एक ऐसा मंच है, जो आपको कुछ ऐसे व्यक्तियों से जोड़ता है, जो आपकी ओर से पूजा और दान जैसी सेवाएं देंगे।

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X