myjyotish

9873405862

   whatsapp

8595527218

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Blogs Hindi ›   Astrology kundali grahon ka khel bhagya zodiac signs planetary movements

कुंडली में इन ग्रहों के होने से बदल सकता है आपका भाग्य

Myjyotish Expert Updated 30 Mar 2021 10:11 AM IST
Jyotish shastra
Jyotish shastra - फोटो : Myjyotish

मकान जिसे हम घर भी कहते हैं जिसमें बाहर से आया हुआ हर व्यक्ति अपने आप को सुरक्षित समझता है जिसमे प्रवेश मात्र से लोगों के दिन भर की थकान खत्म हो जाती है तो चलिए आज जानते हैं मकान के बारे में कि कब बन पाएगा मकान और किस टाइप का मकान बनेगा  कहने का अर्थ है की (फ्लैट बंगला सामान्य स्तर का मकान कॉलोनी का मकान आदि) क्योंकि कहा जाता है जिस किस्मत ने  मकान सुख लिया होता है वैसा ही मिलता है ।

क्या आपको चाहिए अनुभवी एक्सपर्ट की सलाह ?

SUBMIT


तो चलिए आज जानते मकान से जुड़ी कुछ समस्याओं के बारे में:

घर या मकान कि जब समस्या होती है तो इसके बिना जीना अधूरा सा लगता है घर छोटा हो या बड़ा लेकिन अपना जब होता है तो उसका महत्व केवल उसका मालिक है जान सकता है आप बेशक फाइव स्टार होटलों में घूम ले लेकिन जब आप वहां से घूम के आएंगे तो असली थकावट आपके अपने घर में ही मिटेगी मकान एक ऐसी चीज है जिसकी रूपरेखा भी हम खुद ही तैयार करते हैं तथा उसकी एक-एक ईटों की इमारत में हमारे सपने बसते हैं ।

कुंडली का चौथा भाव,  चौथा भाव  स्वामी मकान का है तो मंगल मकान सुख का ग्रह है जब कुंडली का चौथा भाव भावेश पीड़ित अवस्था में होता है तब मकान सुख की दिक्कतै  अर्थात समस्याएं बनी रहती हैं और जब मकान योंग अच्छे होते हैं मतलब चौथा भाव चौथे भाव का स्वामी अच्छी शुभ स्थिति में किसी राजयोग में शुभ योगों में होगा और मकान/ जमीन का प्रतिनिधित्व करने वाला ग्रह मंगल अच्छी स्थिति में कुंडली में बैठा है तब मकान बन जाता है और उस व्यक्ति को अपने मकान का सुख मिल जाता है ।

किस व्यक्ति को किस प्रकार का मकान मिलेगा अर्थात सरल शब्दों में कहा जाए तो उसे फ्लैट मिलेगा बांग्ला मिलेगा यह सामान्य रूप से कॉलोनी के मकान मिलेंगे यह सभी उसके कुंडली के चौथे भाव भावेश की स्थिति कितने शुभ और अनुकूल है इस बात पर निर्भर करेगा जितना ज्यादा शुभ और अनुकूल होगा उसी अनुसार उसका मकान हो पाएगा ।

तो चलिए अब  कुछ उदाहरणों के सहित समझते हैं किस को किस प्रकार के मकान प्राप्त होंगे
 

विंध्याचल में कराएं दुर्गा सहस्त्रनाम का पाठ पाएं अश्वमेघ यज्ञ के समान पुण्य : 13 - 21 अप्रैल 2021 - Durga Sahasranam Path Online


उदाहरण अनुसार मेष लग्न:

मेष लग्न में चौथे भाव का स्वामी चंद्र है चौथे भाव स्वामी के मकान सुख कारक मंगल के साथ बलवान स्थिति में हो जाता है तो  उस व्यक्ति का मकान फ्लैट अच्छी स्थिति वाला बनता है साथ हीं  गुरु शुक्र सूर्य यह ग्रह कोठी बंगला टाइप मकान देते हैं यदि अब यहां मंगल चंद्र के संबंध में बलवान सूर्य गुरु या शुक्र का भी संबंध बने और पाप या अशुभ  ग्रहों,  अशुभ योगों का प्रभाव चौथे भाव पर नहीं है तब बंगला कोठी टाइप मकान बनेगा बाकी निर्भर करेगा जातक जाति किस टाइप का चाहते हैं ।

उदाहरण दूसरा मिथुन लग्न

मिथुन लग्न में लग्नेश बुध चौथे भाव का स्वामी है और बुध बलवान होकर सूर्य गुरु जैसे ग्रहों के साथ संबंध में है और मंगल की स्थिति अच्छी है तब अनुकूल मकान सुख मिलेगा चौथा भाव और चौथे भाव स्वामी बुध किसी राजयोग में है जैसे शुक्र शनि के साथ  राजयोग में होगा और मंगल बलवान स्थिति में है तब मनोअनुकूल जैसा मकान चाहेंगे वैसा बनेगा या हो जाएगा । अब हम आपको अपने तीसरे उदाहरण से यह बताएंगे कि कब और किस कारण बड़े मकान का सुख कई लोगों के कुंडली में नहीं होता है उनके कारण यह है ।

शनि राहु यह छोटे मकान के कारक ग्रह है तो गुरु शुक्र सूर्य मंगल बड़े मकान के ग्रह है ।

उदाहरण तीसरा मकर लगना:
यह चौथे भाव स्वामी स्वयं मंगल है अब मंगल यहां गुरु शुक्र बुध या बलवान सूर्य जैसे ग्रहों के प्रभाव में है तब बड़ा मकान यदि शनि राहु केतु की दृष्टि चौथे भाव भावेश मंगल पर है तब मकान छोटे बनेंगे इसी तरह चौथे भाव भावेश और मंगल की स्थिति अनुसार मनुकूल अपनी पसंद का मकान है और यह थोड़े कमजोर या सामान्य स्थिति में है तब सामान्य मकान सुख होगा और यदि मकान सुख के योग नहीं है तब मकान सुख बहुत मुश्किल होता है ऐसी स्थिति में उपाय करके ही मकान सुख मिल सकता है ।


ये भी पढ़े :

कुम्भ राशि के जातक कभी न करें ये काम !

साप्ताहिक आर्थिक राशिफल : इस सप्ताह लक्ष्मी जयंती, जानें कैसा होगा आर्थिक रूप से आपका हाल ?

जानें कुम्भ काल में महाभद्रा क्यों बन जाती है गंगा ?


 
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support


फ्री टूल्स

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X