myjyotish

9873405862

   whatsapp

8595527218

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Blogs Hindi ›   zodiac signs guru gochar jupiter transit 2021

जानें गुरु का कुम्भ राशि में गोचर किस प्रकार करेगा आपको प्रभावित

Myjyotish Expert Updated 28 Mar 2021 03:10 PM IST
Guru Gochar
Guru Gochar - फोटो : Myjyotish

वर्ष 2021 की शुरुआत में, बृहस्पति, गुरु के रूप में भी जाना जाता है, शनि-शासित संकेत, मकर राशि में प्रवेश किया जाएगा, और मंगलवार, 6 अप्रैल को मकर राशि से कुंभ राशि में शाम 6:01 बजे पारगमन होगा। यह बुधवार, 15 सितंबर तक, प्रतिगामी हो जाएगा और सुबह 4:22 बजे एक बार फिर मकर राशि में प्रवेश करेगा। यह ग्रह 20 नवंबर, शनिवार को सुबह 11:23 बजे फिर से सीधा पोस्ट बन जाएगा और मकर राशि से कुंभ राशि में प्रवेश करेगा। बृहस्पति अपनी चाल को बदल रहा है, इसकी गति अतिचारी हो गई है। इसी कारण यह कुम्भ राशि में प्रवेश कर रहे हैं।

क्या आपको चाहिए अनुभवी एक्सपर्ट की सलाह ?

SUBMIT

 
 एक राशि में लगभग बृहस्पति का 13 महीने भ्रमण होता है। बता दें कि कुंभ राशि में यह 21 दिन तक भर्मण  करेंगे और उस दिन बृहस्पति में एक और परिवर्तन आएगा यानी वक्री हो जाएगा। यहां वक्री का मतलब है कि बृहस्पति की गति तेज या धीमी हुई तो उसके सापेक्ष गति की गणना की जाती है।

होली के दिन, किए-कराए बुरी नजर आदि से मुक्ति के लिए कराएं कोलकाता में कालीघाट स्थित काली मंदिर में पूजा - 28 मार्च 2021
 
जब यह वक्री होता है तो इसका बहुत ही अलग प्रभाव भी होता है।  इसके बाद यह 14 सितंबर को दोबारा से मकर में प्रवेश करेगा और मकर में 18 अक्टूबर को फिर से मार्गी होगा। इसके बाद यह 21 नवंबर को फिर से  13 महीनों के लिए यह कुम्भ में जाएगा। 
 
बता दें कि बृहस्पति आपके स्वास्थ का कारक , धन का कारक, संतान, भाग्य, कर्म का कारक भी माना जाता है और जब अशुभ भाव में यह जाएगा तो यह सभी चीजें प्रभावित होंगी।  इसमें सुख और शांति की भी कमी होती है , स्वास्थ में भी परिवर्तन आ जाती है। गुरु का शनि के घर में जाना यानी शनि की कृपा और बनेगी। जब भी कोई गृह नीच राशि को छोड़ कर अगली राशि में जाता है तो ऐसा माना जाता है कि उसके शुभ फलों में वृद्धि होती है ।

ये भी पढ़े :

कुम्भ राशि के जातक कभी न करें ये काम !

साप्ताहिक आर्थिक राशिफल : इस सप्ताह लक्ष्मी जयंती, जानें कैसा होगा आर्थिक रूप से आपका हाल ?

जानें कुम्भ काल में महाभद्रा क्यों बन जाती है गंगा ?


 
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support


फ्री टूल्स

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X