Navgrah Puja: Worship Of Navagrahas Results In Destruction Of All Problems - नवग्रहों की पूजा से होता है समस्त परेशानियों का विनाश - Myjyotish News Live
myjyotish

9818015458

   whatsapp

8595527216

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Blogs Hindi ›   Navgrah Puja: Worship of Navagrahas results in destruction of all problems

नवग्रहों की पूजा से होता है समस्त परेशानियों का विनाश

My Jyotish Expert Updated 18 Apr 2020 12:46 PM IST
Navgrah Puja: Worship of Navagrahas results in destruction of all problems
कथन अनुसार सभी ने यह सुना है की समय से पहले और भाग्य से ज़्यादा कभी किसी को नहीं मिलता। शास्त्रों के अनुसार भी मान्यता है की ग्रहों दशा अर्थात ग्रहों की चाल का असर सीधे रूप से जातक के जीवन पर पड़ता है। ग्रह दोष या किसी भी ग्रह के अशुभ प्रभाव एक व्यक्ति का सारा जीवन नष्ट करने में सक्षम होते है। यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में कोई ग्रह कमजोर है या उनकी बुरी दशा के कारण जातक का जीवन उथल -पुथल हो रहा है तो समय से इसका समाधान करना बहुत जरुरी है नहीं तो उसके जीवन का विनाश कोई रोक नहीं सकेगा।

हमारे जीवन में जो कोई भी बदलाव आतें है उनका सीधा जुड़ाव हमारे ग्रहों से होता है। इसलिए नवग्रहों की पूजा -अर्चना अवश्य करनी चाहिए। नवग्रहों की पूजा से न सिर्फ एक बल्कि पुरे नौ ग्रह प्रसन्न होते है। जिसके माध्यम से व्यक्ति को एकसाथ नौ ग्रहों की कृपा की प्राप्ति होती है।यदि कुंडली में कोई ग्रह नीच या अशुभ स्थान में होकर बुरा प्रभाव डाल रहा है और इसके कारण आपके जीवन में अनेक कठिनाईयां आ सकती है। नव ग्रह की पूजा करने से यह सभी कठिनाइयाँ दूर हो जाती है तथा जीवन में स्थिरता आती है। नवग्रह की पूजा से देवी -देवता भी प्रसन्न  होकर भक्तों पर कृपा बरसातें है तथा उन्हें सदैव सुखी रहना का आशीर्वाद देतें है। ईश्वर स्वयं अपने भक्तों के रक्षक बनकर शत्रुओं से उनकी रक्षा करते है।

नवग्रहों का पूजन कोई भी कर सकता है मात्र एक पूजा से कुंडली में विराजित ग्रहों के दोष बहुत ही सरलता से शांत हो जातें है।तथा इस पूजा से सुख -समृद्धि एवं मान -सम्मान की प्राप्ति भी होती है।जब कभी भी घर में कोई शुभ कार्य होने वाला हो तो नवग्रह का पूजन जरूर करें जिससे कार्य मंगलमय रूप से संपन्न हो जाएगा।यदि घर में क्लेश की स्थिति बन रही हो तो ऐसी परिस्थिति को समाप्त करने के लिए अवश्य ही नवग्रह की पूजा करनी चाहिए।जिससे विपदाओं का नाश होता है व घर में सुख -शांति का वास होता है। नवग्रह यदि जीवन में शांत हो गए, तो जीवन में किसी भी प्रकार कमी नहीं रहती है।

यह भी पढ़े :-

जानिए गृह प्रवेश की पूजा क्यों है आवश्यक

पूजा की थाली में महत्वपूर्ण है रोली का स्थान

भगवती भवानी के आशीर्वाद से पूर्ण होंगी समस्त मनोकामनाएं

  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X