myjyotish

7678508643

   whatsapp

8595527218

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Blogs Hindi ›   Planet saturn ill effects astrology remedies

जानिए शनि ग्रह की पीड़ा को शांत करने के लिए कौन से पांच रस्मों का किया जाता है प्रयोग

my jyotish expert Updated 06 Sep 2021 06:39 PM IST
shani grah ki peeda
shani grah ki peeda - फोटो : google
ज्योतिष (वैदिक ज्योतिष) जेम थेरेपी 7 ग्रहों और 2 चंद्र नोड्स राहु और केतु में से प्रत्येक के लिए बहुत विशिष्ट रत्नों का उपयोग किया जाता है। इन रत्नों को आपकी जन्म कुंडली के अनुसार सावधानी से चुना जाता है और ये आपके जीवन में बहुत बड़ा बदलाव ला सकते हैं।
अगर सही चुना जाए तो वैदिक ज्योतिष रत्न नुस्खे अविश्वसनीय रूप से प्रभावी हो सकते हैं। ज्योतिष में हम प्रत्येक ग्रह के लिए रत्नों के एक बहुत ही विशिष्ट सेट का उपयोग करते हैं और अक्सर एक प्राथमिक रत्न, द्वितीयक- और कभी-कभी तृतीयक रत्न भी होते हैं जो वैदिक संदर्भ में कम महत्वपूर्ण हो सकते हैं। शनि के लिए रत्न आमतौर पर वृष, मिथुन, कन्या, तुला, मकर और कुंभ लग्न वाले लोगों के लिए सबसे अच्छे होते हैं, हालांकि ज्यादातर वृषभ और तुला राशि के लिए। अपवाद हमेशा लागू होते हैं और यहां तक कि अगर आपने वैदिक ज्योतिषी के साथ पठन किया है, तो एक ज्योतिषी के साथ वापस जांचना एक अच्छा विचार है, जिसकी वैदिक जेम थेरेपी में गहन शिक्षा है।

क्या पड़ेगा मिथुन राशि पर प्रभाव जब शुक्र करेंगे कन्या राशि में प्रवेश, जानें यहाँ

1. नीलम : शनि के लिए अक्सर नीलम रत्न को पहने की सलाह दी जाती। संस्कृत में नीलम को इन्द्रनील, तृषाग्रही नीलमणि भी कहा जाता है। नीलम के प्रकार- 1. जलनील, 2. इन्द्रनील।
 
2. नीलम के उपरत्न : लीलिया, जमुनिया, नीली, नीला टोपाज, लाजवर्त, सोडालाइट, तंजनाईट आदि।
 
3. नीलमणि : यह नीलम की ही तरह होती है। 
 
4. लोहे का छल्ला : जब बुध और राहु हो तो छल्ला बेजोड़ खालिस लोहे का होगा। मतलब यह कि तब लोहे का छल्ला अंगुली में धारण करना चाहिए।
 
5. घोड़े की नाल : यह भी लोहे का छल्ला ही होता है। बस फर्क यह होता है कि यह घोड़े की नाल के लोहे से बना छल्ला होता है जो कि ज्यादा प्रभावकारी माना गया है। 
 
उल्लेखनीय है कि शनि का रत्न या छल्ला शनि की अंगुली में पहना जाता है। शनि की अंगुली मध्यमा अर्थात सबसे बड़ी वाली अंगुली होती है।


जानिए अपने घर की बनावट का शुभ या अशुभ प्रभाव पूछिए वास्तु विशेषज्ञ से
दरिद्रता से मुक्ति के लिए ज़रूरी है अपने ग्रह-नक्षत्रों की जानकारी, देखिए अपनी जन्म कुंडली मुफ़्त में
विवाह को लेकर हो रही है चिंता ? जानें आपकी लव मैरिज होगी या अरेंज, बस एक फ़ोन कॉल पर - अभी बात करें FREE
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support


फ्री टूल्स

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X