myjyotish

6386786122

   whatsapp

8595527218

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Blogs Hindi ›   These Vastu tips are effective in removing problems related to pregnancy

Vastu Tips for Pregnancy: प्रेगनेंसी से जुड़ी समस्याओं को दूर करने में कारगर हैं ये वास्तु टिप्स 

Myjyotish Expert Updated 09 Mar 2022 04:21 PM IST
प्रेगनेंसी से जुड़ी समस्याओं को दूर करने में कारगर हैं ये वास्तु टिप्स 
प्रेगनेंसी से जुड़ी समस्याओं को दूर करने में कारगर हैं ये वास्तु टिप्स  - फोटो : google

प्रेगनेंसी से जुड़ी समस्याओं को दूर करने में कारगर हैं ये वास्तु टिप्स 


गर्भावस्था किसी भी स्त्री, एक दंपति, विवाहित जोड़े के जीवन का एक महत्वपूर्ण समय होता है. यह वह समय है जब जीवन नए जीवन का आरंभ होता है ऎसे में एक योग्य संतान का जन्म  परिवार ही नहीं अपितु विश्व के लिए भी महत्वपूर्ण होता है. संतान जन्म सामाजिक सिद्धांत की प्रगति है आज के समय की दुनिया में कपल्स की मर्जी से बच्चे होते हैं. हम असफल गर्भधारण के बहुत सारे मामले देख रहे हैं और यह कई कारणों से है. पुरुष या महिला का संतान जन्म न दे पाना बांझपन है. लेकिन कभी-कभी मानसिक और शारीरिक रूप से फिट होने के बावजूद, जोड़ों को अभी भी गर्भधारण करने में बहुत सारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है. अगर किसी कारण से संतान का समय आरंभ भी हो जाता है लेकिन तब उस गर्भावस्था के समय भी चिंता बनी रहती है. इन सभी स्थितियों में प्रेगनेंसी के दौरान यदि कुछ वास्तु से जुड़े उपायों को ध्यान रखें तथा उपाय हों तो इस स्थिति से बचाव होना संभव होता है. घर में कुछ वास्तु दोष गर्भवती होने या गर्भावस्था में परेशानी दे सकते हैं. आमतौर पर घरों में पाए जाने वाले कुछ वास्तु दोषों और उन्हें ठीक करने के तरीकों को अपना कर सुख प्राप्त किया जा सकता है. 

होली पर बुरी नजर उतारने और बचाव के लिए काली पूजा - 17 मार्च 2022

वास्तु दोषों को समझने से पहले हमें पांच प्राकृतिक तत्वों यानी जल, वायु, अग्नि, पृथ्वी और आकाश को समझना चाहिए क्योंकि वास्तु शास्त्र इन पांच प्राकृतिक तत्वों पर आधारित होता है. वास्तु के मुताबिक दिशाओं का भी ध्यान रखना अत्यंत उचित होता है. संतान प्राप्ति की चाहत रखने वाली दंपत्ति को उचित दिशा में रहने ओर सोने की आवश्यकता होती है. इसलिए शयन समय दिशा का विशेष ध्यान रखना उचित होता है. दिशा के अनुकूल न होने के कारण दिशा दोष उत्पन्न होता है इस के प्रभाव से भी प्रेगनेंसी में परेशानी या कष्ट की स्थिति उत्पन्न हो सकती है.  

गर्भ धारण करने के लिए सभी तत्वों को संतुलित करना चाहिए. यौन संबंधों के लिए जिम्मेदार तत्व अग्नि तत्व है जो दक्षिण पूर्व दिशा में पाया जाता है. वहीं अग्नि तत्व स्त्री के गर्भ में पल रहे बच्चे को गर्भ धारण करने और परिपक्व करने के लिए भी जिम्मेदार होता है. उचित संबंध और अच्छे यौन जीवन के लिए जोड़ों को उचित दिशा में सोना चाहिए.

दंपति को घर के उत्तर-पश्चिम क्षेत्र में एक विशेष ऊर्जा क्षेत्र में सो सकते हैं जो निश्चित रूप से गर्भधारण में सहायक होता है. यह ऊर्जा क्षेत्र शरीर और दिमाग को ठंडा और स्थिर रखने में मदद करता है.

होली पर वृंदावन बिहारी जी को चढ़ाएं गुजिया और गुलाल - 18 मार्च 2022

एक बार जब एक महिला एक बच्चे को गर्भ धारण कर लेती है तो उसे बच्चे की स्थिरता के लिए उत्तर पूर्व कोने से दक्षिण-पश्चिम दिशा में स्थानांतरित होना चाहिए.

बीम इस बात का भी ध्यान दें कि पति और पत्नी का बिस्तर या बेड छत के बीम के ठीक नहीं होना चाहिए इस स्थान को वास्तु दोष का कारण माना जाता है, इस स्थिति में व्यक्ति के ऊपर नकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह अधिक हो सकता है.  

गर्भवती महिला को कभी भी अंधेरे कमरे या अंधेरी जगह में न रहने दें, हमेशा सुनिश्चित करें कि उसके चारों ओर पर्याप्त रोशनी हो इस कारण से प्रकाश का होना नकारात्मक ऊर्जाओं को दूर करता है. 

आस पास बागबानी का ध्यान रखना चाहिए, पेड़ पौधों का प्रभाव शुभता देने वाला होता है. इस स्थिति में विकास को शुभता मिलती है. आपका आस पास का वातावरण प्रसन्नचित होता है. 

अधिक जानकारी के लिए, हमसे instagram पर जुड़ें ।

अधिक जानकारी के लिए आप Myjyotish के अनुभवी ज्योतिषियों से बात करें।

 
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support


फ्री टूल्स

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X