myjyotish

6386786122

   whatsapp

6386786122

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

विज्ञापन
विज्ञापन
Home ›   Blogs Hindi ›   Ashwin Navratri 2023: Worship Durga with these mantras on Navratri, every wish will be fulfilled.

Ashwin Navratri 2023 : नवरात्रि पर करें इन मंत्रों से दुर्गा उपासना पूरी होगी हर इच्छा

my jyotish expert Updated 21 Oct 2023 10:47 AM IST
Ashwin Navratri 2023
Ashwin Navratri 2023 - फोटो : my jyotish
विज्ञापन
विज्ञापन
 नवरात्रि पर्व के दौरान माता की भक्ति अनेक रुपों में होती है. देवी को प्रसन्न करने के लिए पूरे विधि-विधान से भक्त पूजा करते हैं. देवी जप तप द्वारा प्रसन्न करने हेतु भक्त हर समय इन्हीं के ध्यान में रहते हैं. इन नौ दिनों की रात्रि का बहुत विशेष महत्व होता है. यह समय सिद्धियों को पाने हेतु उत्तम होता है. इस समय पर भक्त कुछ विशेष कार्यों को करते हुए कई तरह की शुभता को पाने में सक्षम होता है. ऊर्जाओं का अदभुत प्रवाह नवरात्रि के समय पर देखा जा सकता है. इस समय के दौरान हर दिन देवी मां के एक विशेष रूप की पूजा की जाती है. यह दिन जीवन एवं भक्ति के मध्य सेतु का कार्य करते हैं. 

कामाख्या देवी शक्ति पीठ में शारदीय नवरात्रि, सर्व सुख समृद्धि के लिए करवाएं दुर्गा सप्तशती का विशेष पाठ : 15 अक्टूबर- 23 अक्टूबर 2023 - Durga Saptashati Path Online

शारदीय नवरात्रि 2023 मंत्र अनुष्ठान  
शारदीय नवरात्रि समय मांगलिक कार्यों के लिए बेहद शुभ माना जाता है. इसी के साथ कलश स्थापना पूजा के साथ ही मंत्रों के जाप द्वारा सिद्धि एवं भक्ति का आरंभ होगा. 

इस शारदीय नवरात्रि कराएं खेत्री, कलश स्थापना 9 दिन का अनुष्ठान , माँ दुर्गा के आशीर्वाद से होगी सभी मनोकामनाएं पूरी - 15 अक्टूबर- 23 अक्टूबर 2023

इस शुभ समय पर शक्ति पूजा हेतु कुछ विशेष मंत्रों का जाप करना बहुत अच्छे परिणाम देने वाला माना जाता है. इन मंत्रों का वर्णन दुर्गा स्तुती में भी प्राप्त होता है. देवी मंत्रों का जाप करने से भक्तों को अपने जीवन में बाधाओं से बचाव मिलता है तथा कष्ट दूर होते हैं. 

विंध्याचल में कराएं शारदीय नवरात्रि दुर्गा सहस्त्रनाम का पाठ पाएं अश्वमेघ यज्ञ के समान पुण्य : 15 अक्टूबर - 23 अक्टूबर 2023 - Durga Sahasranam Path Online

नवरात्रि के समय कई अनुष्ठान होते हैं. इन सभी में एक अनूष्ठान दुर्गा सप्तशती पाठ के द्वारा संभव होता है. इसी में मौजूद तंत्रोक्तं देवीसूक्तम मंत्रों का जाप भक्त को शक्ति के साथ विजय प्राप्ति का सुख प्रदान करने में सहायक माना गया है. आईये जानते हैं इन नौ मंत्रों के विषय में : - 

शारदीय नवरात्रि स्पेशल - 7 दिन, 7 शक्तिपीठ में श्रृंगार पूजा : 15 अक्टूबर- 23 अक्टूबर 2023
 
देवी शैलपुत्री  मंत्र- 'ॐ ऐं ह्रीं क्लीं शैलपुत्र्यै नम:.'
देवी ब्रह्मचारिणी मंत्र- 'ॐ ऐं ह्रीं क्लीं ब्रह्मचारिण्यै नम:.'
देवी चन्द्रघंटा मंत्र- 'ॐ ऐं ह्रीं क्लीं चन्द्रघंटायै नम:.'
देवी कूष्मांडा मंत्र- 'ॐ ऐं ह्रीं क्लीं कूष्मांडायै नम:.'
देवी स्कंदमाता मंत्र- 'ॐ ऐं ह्रीं क्लीं स्कंदमातायै नम:.'
देवी कात्यायनी मंत्र- 'ॐ ऐं ह्रीं क्लीं कात्यायनायै नम:.'
देवी कालरात्री मंत्र- 'ॐ ऐं ह्रीं क्लीं कालरात्र्यै नम:.'
देवी महागौरी मंत्र- 'ॐ ऐं ह्रीं क्लीं महागौर्ये नम:.'
देवी सिद्धिदात्री मंत्र- 'ॐ ऐं ह्रीं क्लीं सिद्धिदात्यै नम:.'
 
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support
विज्ञापन
विज्ञापन


फ्री टूल्स

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X