myjyotish

6386786122

   whatsapp

6386786122

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Astrology Services ›   Puja ›  

Aarthik Sthiti Evam Akasmik Samasyaon Ke Nivaran Hetu Sawan Mein Krayein Shiv Ka Sahastrachan Mahamritunjay Mandir Varanasi

मनचाही इच्छा प्राप्ति और समस्याओं के निवारण हेतु कराएँ काशी में सहस्त्रार्चन : महामृत्युंजय मन्दिर, वाराणसी 25 जुलाई से 22 अगस्त

By: Myjyotish Expert

Rs. 5,100
Buy Now

पूजा के शुभ फल :-

  • कर्ज की परेशानी दूर होती है। 
  • धन - धान्य की कोई कमी नहीं रहती। 
  • दुखों का समापन होता है। 
  • दीर्घायु की प्राप्ति होती है। 
  • नकारात्मक प्रभाव दूर होतें है।

शिव को आरण्य शक्ति में सबसे महत्वपूर्ण देवता के रूप में पूजा जाता है। महादेव की आकृति को दोनों ही रूपों में विख्यात किया गया है। वह भोलेनाथ भी है जिहे शिव के सौम्य रूप में जाना जाता है। साथ ही वह रूद्र भी है जिन्हे शिव के रौद्र रूप में जाना जाता है। इन्हे प्रत्येक व्यक्ति के चेतना का अंतर्यामी माना जाता है। शिव से बढ़कर न कोई है न कोई होगा। शिव इस संसार में अंत से अनादि काल तक कण कण में समाए हुए है। इन्हे संहार का देवता भी कहा जाता है। 

शिव का महामृत्युंजय मंदिर चमत्कारी कहा जाता है। मान्यता है की इस स्थान पर शिव की स्तुति करने से समस्त मनोकामनाओं की पूर्ति होती है। कहते है की शिव पर बिल्या पत्र अर्पण करने वाले व्यक्ति को जीवन में किसी भी प्रकार के आर्थिक कष्ट का सामना नहीं करना पड़ता है। महादेव स्वयं अपने भक्तों के सभी दुःख हर लेते है। यदि कोई व्यक्ति धन के आभाव से परेशान है और इससे जुड़ी विपदाओं से छुटकारा चाहता है तो उसे इस मंदिर में शिव की उपासना अवश्य करनी चाहिए।

हमारी सेवाएं :-
हमारे पंडित जी द्वारा फोन पर संकल्प करवाया जाएगा। पूर्ण विधि - विधान से शिव के हजार नाम के साथ 1000 बिल्या पत्र भोलेनाथ को अर्पण किए जाएंगे।

प्रसाद : 

  • सूखा भोग 
  • बाबा का भस्म 
  • काला धागा ( हाथ में बांधने हेतु )

 

जानिये हमारे पंडित जी के बारे में

ये भी पढ़ें



Ratings and Feedbacks


अस्वीकरण : myjyotish.com न तो मंदिर प्राधिकरण और उससे जुड़े ट्रस्ट का प्रतिनिधित्व करता है और न ही प्रसाद उत्पादों का निर्माता/विक्रेता है। यह केवल एक ऐसा मंच है, जो आपको कुछ ऐसे व्यक्तियों से जोड़ता है, जो आपकी ओर से पूजा और दान जैसी सेवाएं देंगे।

X