myjyotish

6386786122

   whatsapp

8595527218

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Photo Gallery ›   Blogs Hindi ›   If there is a shortage of money in your house, then use these four things

अगर आपके घर में धन की कमी है तोह करे इन चार चीज़ो का प्रयोग

ak.gudiya1998@gmail.com ak.gudiya1998@gmail.com Updated Tue, 01 Feb 2022 08:07 PM IST
dhan
1 of 5
वास्तु शास्त्र सदियों से चला आ रहा यह शास्त्र भारत में आज भी बहुत प्रचलित है। आज भी लोग इसी के हिसाब से अपना घर बनवाना पसंद करते है। मान्यता है की वास्तु शास्त्र के हिसाब से बनाए हुए घर में सुख शनि रहती है और व्यक्ति के जीवन में सकरात्मक ऊर्जा आती है।
 वास्तु शास्त्र के अनुसार हर चीज में एक ऊर्जा होती है, जिसका मनुष्य के जीवन पर सकारात्मक और नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। अगर किसी वस्तु को उसकी सही दिशा में रखा जाए तो इससे सकारात्मक परिणाम मिलते हैं, अगर वही वस्तु गलत दिशा में हो तो इसका व्यक्ति की जिंदगी पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। वास्तु शास्त्र में घर और घर में रखी वस्तुओं की दिशा की गणना की जाती है। हर व्यक्ति चाहता है कि उसका घर धन-धान्य से भरा रहे, इसके लिए लोग दिन-रात कड़ी मेहनत भी करते हैं।
हालांकि कई बार ऐसा होता है की घर में पैसा टिक नहीं पाता और लोगों को आर्थिक संकट का सामना करना पड़ता है। आर्थिक समस्याओं से बचने के लिए वास्तु शास्त्र में कुछ उपाय बताए गए हैं, जिन्हें अपनाकर ना सिर्फ धन-धान्य में वृद्धि हो सकती है बल्कि घर में सुख-समृद्धि का वास भी होता है।


हस्तरेखा ज्योतिषी से जानिए क्या कहती हैं आपके हाथ की रेखाएँ


 

फ्री टूल्स

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X