myjyotish

7678508643

   whatsapp

8595527218

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Live ›   Blogs Hindi ›   Dhanteras 2021 LIVE Updates: Know Dhanteras puja Shubh Muhurat Time Vidhi Upay in Hindi

Dhanteras 2021 LIVE Updates: धनतेरस कुबेर पूजन शुभ मुहूर्त के साथ जानें आज क्या खरीदें और क्या नहीं ?

Myjyotish Expert Updated 02 Nov 2021 04:12 PM IST
Dhanteras 2021 LIVE Updates: Know Dhanteras puja Shubh Muhurat Time Vidhi Upay in Hindi
dhanteras 2021 shubh muhurat - फोटो : Myjyotish

खास बातें

LIVE Dhanteras (धनतेरस) 2021 Kuber puja Shubh Muhurat ( धनतेरस कुबेर पूजन शुभ मुहूर्त) Updates : धनतेरस 2021: 2 नवंबर को धनतेरस के साथ ही पांच दिवसीय दिवाली उत्सव की शुरुआत, जिसके बाद नरक चतुर्दशी (3 नवंबर), दिवाली (4 नवंबर), गोवर्धन पूजा (5 नवंबर) और भाई दूज (6 नवंबर) होंगे। धनत्रयोदशी और धन्वंतरि त्रयोदशी के रूप में भी जाना जाता है, लोग इसे सोना, नए बर्तन, लक्ष्मी-गणेश की मूर्तियों और अन्य घरेलू उपकरणों को खरीदने के लिए एक शुभ दिन मानते हैं। धनतेरस आश्विन मास की त्रयोदशी तिथि को दिवाली से दो दिन पहले मनाया जाता है।

किंवदंती है कि धनत्रयोदशी के दिन, देवी लक्ष्मी, धन के देवता भगवान कुबेर के साथ सागर मंथन के दौरान समुद्र से निकली थीं और इसलिए त्रयोदशी के शुभ दिन पर दोनों की पूजा की जाती है।

लाइव अपडेट

04:00 PM, 02-Nov-2021
धनिया का बीज:  बहुत से लोग नहीं जानते हैं कि धनतेरस के शुभ दिन पर धनिया के बीज खरीदने की परंपरा भी है. इसे धन का प्रतीक माना जाता है. लक्ष्मी पूजा के समय इन बीजों को उन्हें अर्पित करें और पूजा करने के बाद इनमें से कुछ बीजों को मिट्टी के बर्तन में या अपने घर के पीछे वाले हिस्से में बो दें और बाकी को अपनी तिजोरी में रख दें

सोलह श्रृंगार का सामान : इस दिन विवाहित महिला को 'सोलह श्रृंगार' का एक सेट या सिंदूर के साथ एक लाल साड़ी उपहार में देना शुभ माना जाता है. लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं. अगर कोई विवाहित महिला नहीं है, तो किसी अविवाहित लड़की को ये चीजें उपहार में दे सकते हैं और उसका आशीर्वाद ले सकते हैं.  

अकाल मृत्यु व गंभीर रोगों से बचने के लिए धनतेरस पर भगवान धनवंतरि की पूजा
03:45 PM, 02-Nov-2021
यहां हम आपको बताने जा रहे हैं कि धनतेरस के दिन इन तीन चीजों में से कोई एक चीज जरूर खरीदकर लाएं. इससे मां लक्ष्मी की तो आप पर कृपा रहेगी ही, साथ ही ही कभी भी पैसों की किल्लत भी नहीं रहेगी।

सोना चांदी नहीं तो खरीद लें छोटी चम्मच: इस दिन सोने या चांदी की चीज खरीदना शुभ माना जाता है, लेकिन यदि नहीं खरीद सकते हैं, तो इस दिन स्टील का एक छोटा चम्मच जरूर खरीदें. पर याद रखें इस चम्मच को अपनी तिजोरी में रख दें. इससे आपको मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होगी और आपके धन में वृद्धि होगी।

दिवाली की रात कराएं लक्ष्मी कुबेर यज्ञ, होगी अपार धन, समृद्धि  व्  सर्वांगीण कल्याण  की प्राप्ति
 
03:30 PM, 02-Nov-2021
कौड़िया (Shells) : कौड़ियों के सिक्कों का प्रयोग पुराने समय में काफी प्रचलित था। ऐसी मान्यता भी है कि समुंदर मंथन के समय जब लक्ष्मी जी प्रकट हुई थी तो उनके साथ कौड़िया भी थी। धनतेरस के शुभ दिन आपको ओड़िया जरूर खरीदनी चाहिए और यदि वह पीना हो तो उसे हल्दी के गुण में पीला कर ले बाद में इनकी पूजा कर इसको अपनी तिजोरी में रखें। इसको काफी शुभ माना जाता है  जिसके फलस्वरूप धन से संबंधित काफी लाभ होता है।

दिवाली के पावन अवसर पर अपार धन-समृद्धि के लिए कराएं सहस्त्ररूपा सर्वव्यापी लक्ष्मी साधना
03:15 PM, 02-Nov-2021
धनिया (साबुत धनिया): धनतेरस के शुभ दिन को पीला धनिया खरीदना भी सबसे ज्यादा शुभ माना जाता है। इसका प्रमुख कारण यह है कि धनिया भी बृहस्पति ग्रह का एक शुभ कारक है। इस दुनिया परंपरा भी है कि सूखे धनिया को प्लीज कर गुड़ के साथ मिलाकर एक मिश्रण तैयार किया जाता है। इसके प्रतिज्ञा मान्यता है कि ऐसा करने से आर्थिक नुकसान कभी नहीं होता है। धनिया क्षमता का एक प्रमुख प्रतीक है। जिसके कारण धनतेरस के शुभ दिन को कुछ मात्रा में धनिया जरूर खरीदना चाहिए। धनिया के संदर्भ में ऐसी मान्यता भी है कि धनतेरस के दिन मां लक्ष्मी को धनिया अर्पित करना चाहिए और भगवान धन्वंतरी के चरणों में धनिया चढ़ाकर उनसे सुख शांति एवं धन समृद्धि की प्रार्थना करनी चाहिए। इस प्रार्थना के फल स्वरुप आपको मेहनत का फल है उसे ही मिलता है और व्यक्ति स्तर पर लाभ होता हैं। पूजा के बाद धनिया का प्रसाद बनाकर सभी को बांट देना चाहिए।

अकाल मृत्यु व गंभीर रोगों से बचने के लिए धनतेरस पर भगवान धनवंतरि की पूजा
 
03:00 PM, 02-Nov-2021
पीतल का बर्तन : पीतल के बर्तन के संदर्भ में यह भी जानना जरूरी है की प्राचीन काल से इन बर्तनों का प्रयोग काफी शुभ माना जाता है। इस दिन पीतल का बर्तन जरूर खरीदना चाहिए क्योंकि पीतल भगवान धन्वंतरि की धातु का रूप है। पीतल खरीदने से घर में सभी स्वस्थ रहते हैं। पूरे घर में आरोग्य रहता है, दृष्टि में शुद्धता आती है। पीतल गुरु की धातु होने के कारण काफी शुभ माना जाता है। यदि बृहस्पति ग्रह की शांति करनी हो तो इसके लिए पीतल का ही प्रयोग किया जाता है।

अकाल मृत्यु व गंभीर रोगों से बचने के लिए धनतेरस पर भगवान धनवंतरि की पूजा
02:45 PM, 02-Nov-2021
सोना : धनतेरस के शुभ दिन सोने के आभूषण खरीदने की परंपरा है। इसे काफी शुभ माना जाता है। सोने को शुभ मानने के पीछे प्रमुख कारण यह है कि सोना लक्ष्मी और बृहस्पति का प्रतीक है। जिसके फलस्वरूप यह परंपरा है कि सोना आज के दिन खरीदना सबसे अधिक शुभ है। सोना पीला होने के कारण इस दिन इसे खरीदना काफी शुभ माना जाता है।

शीघ्र ही धन प्राप्ति हेतु इस धनतेरस घर बैठे कराएं विशेष पूजा



 
02:30 PM, 02-Nov-2021
धनतेरस के शुभ दिन खरीदारी का सबसे शुभ मुहूर्त रहता है। इस दिन रिवाज है कि नई वस्तुएं खरीदी जाती है। दान करने का भी काफी लाभ भी इस दिन मिलता है। पीली वस्तु को खरीदना सबसे अधिक शुभ माना जाता है। चलिए जानते हैं कि धनतेरस पर कौन सी ऐसी पांच पीली वस्तुएं खरीदने चाहिए जिससे धन समृद्धि बढ़ती है और धन संपदा में बरकत होती है। यही कारण है कि पीली वस्तुओं को खरीदना अधिक महत्वपूर्ण हो जाता है।

यदि आप भी चाहते हैं कि महालक्ष्मी की कृपा आप पर बनी रहे और धन लाभ हो इसके लिए आपको धनतेरस के दिन पीली वस्तुओं को खरीदना चाहिए। आपके परिवार में सुख शांति एवं समृद्धि होगी। आइए जानते हैं, कौन सी है यह प्रमुख पांच पीली वस्तुएं।

इस साल दिवाली पर कराएं महापूजन, धनतेरस, कालीचौदस और लक्ष्मी पूजा से मिलेगा अनंत फल 
02:15 PM, 02-Nov-2021
भगवान धन्वंतरि आयुर्वेदिक चिकित्सा के देवता हैं, धनतेरस किसी के परिवार के सदस्यों या परिजनों की भलाई के लिए मनाया जाता है। भगवान धन्वंतरि को सभी रोगों का निवारण करने वाला माना जाता है। हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार, भगवान धन्वंतरि, जो देवताओं के चिकित्सक हैं, समुद्र मंथन के दौरान देवताओं और असुरों के सामने प्रकट हुए थे। उन्होंने अपने हाथों में अमृता, या अमरता का अमृत और आयुर्वेद नामक पाठ भी धारण किया।

दिवाली की रात कराएं लक्ष्मी कुबेर यज्ञ, होगी अपार धन, समृद्धि  व्  सर्वांगीण कल्याण  की प्राप्ति
 
02:00 PM, 02-Nov-2021
  पौराणिक कथाओं के अनुसार, धनत्रयोदशी के दिन - पांच दिवसीय लंबे दीवाली उत्सव का पहला दिन - देवी लक्ष्मी समुद्र से, दूधिया समुद्र के मंथन के दौरान, सोने को लेकर निकली थीं। इसलिए, भगवान कुबेर के साथ, जो धन के देवता हैं, उनकी पूजा 'त्रयोदशी' के शुभ दिन पर की जाती है।

पहले के दिनों में, लोग ज्यादातर केवल बर्तन ही खरीदते थे, और थाली या चम्मच जैसी साधारण चीज को भी उतना ही शुभ माना जाता था। आजकल, लोग सोने के साथ देवी लक्ष्मी के उद्भव का प्रतीकात्मक संदर्भ देने के लिए सोने के आभूषणों के रूप में खरीदारी करते हैं।

दिवाली की रात कराएं लक्ष्मी कुबेर यज्ञ, होगी अपार धन, समृद्धि  व्  सर्वांगीण कल्याण  की प्राप्ति
 
01:45 PM, 02-Nov-2021
देव और असुर दोनों चाहते थे कि अमृत अमर हो जाए, जिसके कारण दो पौराणिक समूहों के बीच लड़ाई हुई। यह गरुड़ था, जिसे अक्सर एक बड़े ईगल जैसे पक्षी, या आधे मानव, आधे पक्षी प्राणी के रूप में चित्रित किया जाता था, जो असुरों से अमृत की रक्षा करता था।

अकाल मृत्यु व गंभीर रोगों से बचने के लिए धनतेरस पर भगवान धनवंतरि की पूजा
01:15 PM, 02-Nov-2021
भगवान धन्वंतरि आयुर्वेदिक चिकित्सा के देवता हैं, इसलिए धनतेरस किसी के परिवार के सदस्यों या परिजनों की भलाई के लिए मनाया जाता है। भगवान धन्वंतरि को सभी रोगों का निवारण करने वाला माना जाता है। हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार, भगवान धन्वंतरि, जो देवताओं के चिकित्सक हैं, समुद्र मंथन के दौरान देवताओं और असुरों के सामने प्रकट हुए थे। उन्होंने अपने हाथों में अमृता, या अमरता का अमृत और आयुर्वेद नामक पाठ भी धारण किया।

दिवाली की रात कराएं लक्ष्मी कुबेर यज्ञ, होगी अपार धन, समृद्धि  व्  सर्वांगीण कल्याण  की प्राप्ति
01:00 PM, 02-Nov-2021
पूजा विधि एक हिंदू धार्मिक संस्कार के दौरान पूजा के तरीके को संदर्भित करती है। भक्त विभिन्न वस्तुओं की खरीद करते हैं, विशेष रूप से घरेलू सामान जैसे बर्तन और झाड़ू। पूजा की रस्मों के दौरान ऐसी वस्तुओं को भगवान धन्वंतरि को अर्पित किया जाता है। लोग इस अवसर के लिए सोने और चांदी के सामान जैसे आभूषण, सिक्के और बार भी खरीदते हैं।

दीपावली महापर्व - तीन दिनों के पूजन से मिलेगा अनंत फल, घर बैठें कराएं विशेष पूजा
12:45 PM, 02-Nov-2021
फूड्स
खीर, लड्डू, खीर बताशे, बर्फी जैसी मिठाइयाँ और मिठाइयाँ अक्सर इस दिन प्रसाद के रूप में परोसी जाती हैं। इसके अलावा महाराष्ट्रीयन घरों में वे धनिया के बीज या 'ढाणे' को गुड़ के साथ पीसने की परंपरा का पालन करते हैं, जिसे प्रसाद के रूप में परोसा जाता है।

अकाल मृत्यु व गंभीर रोगों से बचने के लिए धनतेरस पर भगवान धनवंतरि की पूजा




 
12:30 PM, 02-Nov-2021
परिवार में सुख-समृद्धि लाने की रस्म का पालन करने के लिए इस दिन चम्मच या थाली जैसी छोटी खरीदारी भी घर लाकर पूजा की जा सकती है।
ऐसा माना जाता है कि घर के चारों ओर दीया जलाने से परिवार में सुख-समृद्धि आती है। कुछ संस्कृतियों में इस दिन दिवाली पूजा के लिए मूर्तियों को खरीदा जाता है और उनकी पूजा की जाती है। घर के चारों ओर मोमबत्तियां और दीया जलाना एक अनुष्ठान है जिसे यम दीपम के नाम से जाना जाता है, ऐसा कहा जाता है कि यह किसी भी दुर्भाग्य और भगवान यम (मृत्यु के देवता) को घर में रहने वाले लोगों से दूर रखता है।

अकाल मृत्यु व गंभीर रोगों से बचने के लिए धनतेरस पर भगवान धनवंतरि की पूजा
12:15 PM, 02-Nov-2021
धनत्रयोदशी दिवाली की शुरुआत का प्रतीक है और आमतौर पर दिवाली से एक या दो दिन पहले मनाया जाता है। धनतेरस शब्द दो शब्दों का मेल है: 'धन' का अर्थ है धन और 'तेरस' का अर्थ है तेरह। ऐसा माना जाता है कि इस दिन बर्तन, आभूषण या कोई बड़ी खरीदारी करने से सौभाग्य, समृद्धि और धन की प्राप्ति होती है।

दिवाली की रात कराएं लक्ष्मी कुबेर यज्ञ, होगी अपार धन, समृद्धि  व्  सर्वांगीण कल्याण  की प्राप्ति
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support


फ्री टूल्स

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X