myjyotish

6386786122

   whatsapp

6386786122

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

विज्ञापन
विज्ञापन
Home ›   Blogs Hindi ›   Naraka Chaturdashi 2023: Do this work on Naraka Chaudas, you will not suffer from untimely death

Naraka Chaturdashi 2023: नरक चौदस पर करें ये कार्य नहीं सताएगा अकाल मृत्यु का भय

Acharyaa RajRani Updated 09 Nov 2023 11:29 AM IST
narak chaturdashi
narak chaturdashi - फोटो : Myjyotish
विज्ञापन
विज्ञापन
नरक चतुर्दशी उन कुछ विशेष समय में होता है जब अकाल मृत्यु से भय का सुख प्राप्त किया जा सकता है. इस दिन कि जाने वाले कार्य भक्तों को विशेष सुख प्रदान करने वाले होते हैं इसके अलावा इस समय पर भूलकर भी कुछ काम नहीं करने चाहिए. आइये जानें इस दिन पर क्या करें ओर किन कामों को करने से मिलता है

अकाल मृत्यु से भय की मुक्ति . नरक चतुर्दशी का समय धनतेरस के अगले दिन मनाया जाता है इस दिन यम देव का पूजन होता है तथा मां लक्ष्मी जी का पूजन भक्तों को सुख के साथ समृद्धि का वर प्रदान करता है. 
 
दिवाली के पावन अवसर पर अपार धन-समृद्धि के लिए कराएं सहस्त्ररूपा सर्वव्यापी लक्ष्मी साधना : 12-नवम्बर-2023 | Lakshmi Puja Online

नरक चतुर्दशी पर होता है यम पूजन 
नरक चतुर्दशी हर साल कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मनाई जाती है. नरक चतुर्दशी दिवाली से एक दिन पहले और धनतेरस के बाद मनाई जाती है. नरक चतुर्दशी और दिवाली का दिन कई बर एक ही समय पर भी पड़ सकता है. इस चतुर्दशी को छोटी दिवाली, रूप चौदस, नरक चौदस इत्यादि के नाम से भी जाना जाता है. इस दिन मृत्यु के देवता यमराज की पूजा का विधान है. 
 
शीघ्र धन प्राप्ति के लिए कराएं कुबेर पूजा 11 नवंबर 2023 Kuber Puja Online

धर्म कथाओं एवं मान्यताओं के अनुसार ऐसा माना जाता है कि इस दिन भगवान कृष्ण ने नरकासुर का वध किया था, इसलिए इसे नरक चतुर्दशी कहा जाता है. अत: कष्टों से मुक्ति हेतु इस दिन भगवान श्री कृष्ण की भी पूजा की जाती है. नरक चतुर्दशी के दिन कुछ कार्य करने से शुभता की प्राप्ति होती है . आइए जानते हैं वो कौन से काम हैं जिन्हें इस दिन करना चाहिए.
 
आपके स्वभाव से लेकर भविष्य तक का हाल बताएगी आपकी जन्म कुंडली, देखिए यहाँ

नरक चतुर्दशी के दिन यम के निमित्त दीपक जलाना आवश्यक कार्य होता है. इस दिन अपना घर खाली नहीं छोड़ना चाहिए और इस दिन घर के दक्षिण दिशा में दीपक जरुर जलाना चाहिए. ऎसा करने से व्यक्ति को यम पाश से मुक्ति का सुख मिलता है. अगर आपको किसी जरूरी काम को पूरा करना है तो इस दिन दीपक में काले तिल डालने चाहिए इसके साथ ही यम मंत्र का जाप अवश्य करना चाहिए. 

जन्मकुंडली ज्योतिषीय क्षेत्रों में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है

इस दिन घर में समृद्धि बनाए रखने के लिए लक्ष्मी जी का पूजन रात्रि के समय पर करना शुभ होता है. अकाल मृत्यु से बचने के लिए नरक चतुर्दशी के दिन घर की दक्षिण दिशा में दीपक में एक कौड़ी और एक रुपये का सिक्का रख कर इसे जरुर जलाना चाहिए. ऎसा करने से अकाल मृत्यु से बचाव होता है तथा सुखों की प्राप्ति होती है. 
 
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support
विज्ञापन
विज्ञापन


फ्री टूल्स

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X