myjyotish

6386786122

   whatsapp

8595527218

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

विज्ञापन
विज्ञापन
Home ›   Blogs Hindi ›   Mrityu Panchak: Panchak Devi worship will start on Magh Gupt Navratri

Mrityu Panchak: माघ माह की गुप्त नवरात्रि के दिन ही शुरु होंगे पंचक देवी पूजन से मिलेगा विशेष फल

Acharya Rajrani Sharma Updated 10 Feb 2024 10:02 AM IST
mrityu panchak
mrityu panchak - फोटो : google

खास बातें

Mrityu Panchak: माघ माह की गुप्त नवरात्रि के दिन ही शुरु होंगे पंचक देवी पूजन से मिलेगा विशेष फल 

Navratri Panchak 2024 : फरवरी माह में आने वाले प्रथम पंचक का आरंभ माघ हुप्त नवरात्रि से होगा. 

Mrityu Panchak: माघ माह की गुप्त नवरात्रि के दिन ही शुरु होंगे पंचक देवी पूजन से मिलेगा विशेष फल 


Navratri Panchak 2024 : फरवरी माह में आने वाले प्रथम पंचक का आरंभ माघ हुप्त नवरात्रि से होगा. गुप्त नवरात्रि और पंचक की शुरुआत का एक समय होना कई मायनों में महत्वपूर्ण होने वाला है. इस समय मिलेंगे कई तरह के प्रभाव क्योंकि इस समय मृत्यु पंचक की शुरुआत होगी. 

Panchak 2024 :  शनिवार को शुरू होने वाले पंचक को मृत्यु पंचक कहा जाता है. और इसी दिन से नवरात्रि का आरंभ भी होगा इस दौरान पंचक के समय देवी पूजन का प्रभाव पांच गुना रुप में प्राप्त होने वाला होगा. नाम अनुरुप यह पंचक अनुकूल नहीं होता है लेकिन इस समय देवी की महाविद्याओं की पूजा इसके शुभ प्रभाव देने वाली बनेगी. 

बसंत पंचमी मां सरस्वती की पूजन, पाए बुद्धि-विवेक-ज्ञान की बढ़ोत्तरी, मिलेगी हर परीक्षा में सफलता 14 फरवरी 2024
 

पंचक का ज्योतिष अनुसार महत्व 

 पंचक का निर्माण पांच नक्षत्रों के मेल से होता है. ये नक्षत्र हैं धनिष्ठा  नक्षत्र, शतभिषा  नक्षत्र, पूर्वा भाद्रपद नक्षत्र, उत्तरा भाद्रपद  नक्षत्र और रेवती  नक्षत्र. इन नक्षत्रों के योग से पंचक नक्षत्र आता है. ज्योतिष के अनुसार चंद्रमा पांच दिनों के दौरान चंद्रमा धनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वा भाद्रपद, उत्तरा भाद्रपद और रेवती से गुजरता है इन पांच दिनों को पंचक कहा जाता है.  मृत्यु पंचक को अन्य पंचकों में सबसे खतरनाक माना जाता है. ऐसे में देवी का पूजन शुभ फल प्रदान करने वाला होगा. 

शनिवार को शुरू होने वाले पंचक को मृत्यु पंचक कहा जाता है. और इसी दिन से नवरात्रि का आरंभ भी होगा इस दौरान पंचक के समय देवी पूजन का प्रभाव पांच गुना रुप में प्राप्त होने वाला होगा

गुप्त नवरात्रि में कराएँ मां दुर्गा सप्तशती का अमूल्य पाठ, घर बैठे पूजन से मिलेगा सर्वस्व 10 फरवरी -18 फरवरी 2024
 

पंचक के साथ नवरात्रि प्रभाव 

पंचक और नवरात्रि का होना एक समय पर विशेष माना जाता है. यह समय पूजा एवं भक्ति के लिए अनुकूल है. माघ मास की इस नवरात्रि के दिन पंचक भी शुरू हो रहा है. ऐसे में इस समय देवी मां की पूजा करने से अकाल मृत्यु का भय खत्म होने का संकेत मिलता है. वैसे ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हिंदू धर्म में किसी भी काम को करने से पहले शुभ और अशुभ समय देखा जाता है. किम्तु नवरात्रि की घटस्थापना भी इस समय के लिए अनुकूल है. शुभ समय में किए गए काम हमेशा सफल होते हैं. हर महीने में पांच दिन ऐसे होते हैं, जिन दौरान कोई भी शुभ काम नहीं किया जाता है. लेकिन भक्ति के कार्य इसके लिए बाधा नहीं बनते हैं. पांच दिनों को पंचक कहा जाता है. इस दौरान शुभ और मांगलिक कार्य नहीं किए जाते हैं और कुछ कार्य ऐसे भी होते हैं जिन्हें वर्जित नहीं किया जाता है.

प्रतिपदा तिथि में घटस्थापना मुहूर्त करने की परंपरा है. माघ गुप्त नवरात्रि के लिए प्रतिपदा तिथि प्रारंभ होने का समय 10 फरवरी, 2024 को सुबह से होगा और माघ गुप्त नवरात्रि के लिए प्रतिपदा तिथि का समापन समय 11 फरवरी, 2024 को सुबह 12:47 बजे होगा. इसी के साथ 10 तारीख को ही पंचक शुरु होंगे सुबह 10:02 समय से. लेकिन इसी के साथ पंचक की समाप्ति का समय बसंत पंचमी को 14 फरवरी के दिन होने वाला है. 

देवी पूजन में घटस्थापना मुहूर्त के लिए, दोहरी स्वभाव लग्न अत्यंत शुभ होता है इसलिए इसके लिए घटस्थापना का समय मीन लग्न में होगा. 10 फरवरी को प्रातः 08:45 बजे से मीन लग्न प्रारम्भ होगी जो 10:10 बजे समाप्त होगी.  इस दिन शनिवार की सुबह घटस्थापना की जाएगी. इस दिन ही पंचक भी आरंभ होंगे तो माता के पूजन के साथ पंचक की शुभता मिलेगी भक्तों को. ऎसे में पंचक के गलत प्रभाव से बचाव हेतु भी माता का पूजन उत्तम होगा. 
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support


फ्री टूल्स

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X