myjyotish

6386786122

   whatsapp

6386786122

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

विज्ञापन
विज्ञापन
Home ›   Blogs Hindi ›   Jaya Ekadashi 2024 Date: Gain Jai's blessings for fulfilled wishes.

Jaya Ekadashi 2024 Date: जया एकादशी कब है? मिलेगा जय का आशीर्वाद और पूर्ण होंगी मनोकामनाएं

Acharya Rajrani Sharma Updated 19 Feb 2024 09:58 AM IST
Jaya Ekadashi
Jaya Ekadashi - फोटो : google

खास बातें

Jaya Ekadashi 2024 Date: जया एकादशी कब है? मिलेगा जय का आशीर्वाद और पूर्ण होंगी मनोकामनाएं

Jaya Ekadashi : वर्ष भर की सभी एकादशी का पूजन अपने आप में विशेष माना गया है. माघ माह में आने वाली जया एकादशी उसी में से एक है. इस दिन श्री हरि पूजन किया जाता है.
विज्ञापन
विज्ञापन

Jaya Ekadashi 2024 Date: जया एकादशी कब है? मिलेगा जय का आशीर्वाद और पूर्ण होंगी मनोकामनाएं


Jaya Ekadashi : वर्ष भर की सभी एकादशी का पूजन अपने आप में विशेष माना गया है. माघ माह में आने वाली जया एकादशी उसी में से एक है. इस दिन श्री हरि पूजन किया जाता है.

Ekadashi 2024 Importance जय एकादशी व्रत को सबसे शुभ एवं उत्तम व्रतों में से एक माना जाता है. ऐसा माना जाता है कि जय एकादशी व्रत रखने से श्री विष्णु अपने भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूरी करते हैं.

माघ माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी को जया एकादशी के नाम से जाना जाता है. वर्ष भर में आने वाली एकादशी तिथियों का प्रभाव मोक्ष को प्रदान करने वाला भी कहा गया है. सभी एकादशियों अलग-अलग नाम होते हैं. तथा इनके फलों में भी अलग अलग विशेषता देखने को मिलती है. एकादशी व्रत भगवान श्री हरि विष्णु को समर्पित हैं. इसमें से जया एकादशी व्रत सर्वोत्तम व्रतों में से एक माना जाता है. एकादशी व्रत के नियम काफी कठिन होते हैं. एकादशी व्रत के नियम दशमी तिथि की शाम से लागू हो जाते हैं और द्वादशी तक जारी रहते हैं. आइये जान लेते हैं माघ माह की जया एकादशी व्रत की महिमा एवं उसके प्रभाव

गुप्त नवरात्रि में कराएँ मां दुर्गा सप्तशती का अमूल्य पाठ, घर बैठे पूजन से मिलेगा सर्वस्व 10 फरवरी -18 फरवरी 2024
 

जया एकादशी मनोकामना पूर्ति का समय

शास्त्रों के अनुसार यह एकादशी का व्रत जय दिलाने वाला बताया गया है. माना जाता है कि जो इस एकादशी का व्रत रखता है उसके जीवन में हर प्रकार की सुख समृद्धि का आगमन होता है. जया एकादशी के दिन पूजा में तुलसी के पत्तों का प्रयोग जरूर करनी है.अगर आपके मन में कोई विशेष इच्छा है तो उसे पूरा करने के लिए एकादशी के दिन सुबह स्नान करने के बाद भगवान का पूजन करना चाहिए. श्री हरि के पूजन में तुलसी के पत्तों का प्रयोग करने से भगवान प्रसन्न होते हैं. श्री विष्णु को तुलसी के पत्ते अर्पित करना उत्तम फल प्रदान करने वाला होता है.
 

जया एकादशी मंत्र

ॐ नारायणाय विद्महे।
वासुदेवाय धीमहि ।
तन्नो विष्णु प्रचोदयात्।।

दन्ता भये चक्र दरो दधानं,
कराग्रगस्वर्णघटं त्रिनेत्रम्।

धृता ब्जया लिंगितमब्धि पुत्रया,
लक्ष्मी गणेशं कनकाभमीडे।।
 

जया एकादशी पूजा लाभ

एकादशी व्रत का विशेष महत्व है. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, एकादशी व्रत रखने से भक्तों को सभी पापों से मुक्ति मिल जाती है. एकादशी व्रत के दिन कुछ विशेष नियमों का पालन करने से सुख समृद्धि बनी रहती है. साथ ही उनकी सभी मनोकामनाएं भी पूरी होती हैं. इस एकादशी के द्वारा साधक को अक्षय पुण्य के समान आशीर्वाद प्राप्त होता है. एकादशी समय में भगवान विष्णु की पूजा का विशेष महत्व है. भगवान विष्णु की विशेष पूजा के लिए हर महीने एकादशी का व्रत रखा जाता है. इस दिन श्रीहरि की पूजा-अर्चना, दान आदि करने से व्यक्ति को अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है. साथ ही जीवन में आने वाली कई तरह की परेशानियां दूर हो जाती हैं. शास्त्रों में भगवान विष्णु को समर्पित कुछ विशेष स्त्रोत का उल्लेख किया गया है, जिनका पाठ यदि जया एकादशी के दिन किया जाए तो भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं
 

श्री विष्णु स्तोत्र/Shri Vishnu Stotra

किं नु नाम सहस्त्राणि जपते च पुन: पुन: ।
यानि नामानि दिव्यानि तानि चाचक्ष्व केशव: ।।1।।
मत्स्यं कूर्मं वराहं च वामनं च जनार्दनम् ।
गोविन्दं पुण्डरीकाक्षं माधवं मधुसूदनम् ।।2।।
पदनाभं सहस्त्राक्षं वनमालिं हलायुधम् ।
गोवर्धनं ऋषीकेशं वैकुण्ठं पुरुषोत्तमम् ।।3।।
विश्वरूपं वासुदेवं रामं नारायणं हरिम् ।
दामोदरं श्रीधरं च वेदांग गरुड़ध्वजम् ।।4।।
अनन्तं कृष्णगोपालं जपतो नास्ति पातकम् ।
गवां कोटिप्रदानस्य अश्वमेधशतस्य च ।।5।।
कन्यादानसहस्त्राणां फलं प्राप्नोति मानव: ।
अमायां वा पौर्णमास्यामेकाद्श्यां तथैव च ।।6।।
संध्याकाले स्मरेन्नित्यं प्रात:काले तथैव च ।
मध्याहने च जपन्नित्यं सर्वपापै: प्रमुच्यते ।।7।।
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support
विज्ञापन
विज्ञापन


फ्री टूल्स

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X