myjyotish

6386786122

   whatsapp

8595527218

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

विज्ञापन
विज्ञापन
Home ›   Blogs Hindi ›   Guru Nanak Dev Jayanti: The festival of Guru Nanak Jayanti gives blessings of Guru and a new path to life.

Guru Nanak Dev Jayanti: गुरुनानक जयंती का पर्व देता है गुरु का आशीर्वाद और जीवन को नया मार्ग

my jyotish expert Updated 16 Nov 2023 12:46 PM IST
Guru Nanak Dev Jayanti
Guru Nanak Dev Jayanti - फोटो : my jyotish
हर साल कार्तिक पूर्णिमा के दिन गुरु नानक देव जयंती के रुप में मनाई जाती है.सिखों के प्रथम गुरु नानक देव जी के समय को प्रकाश पर्व के रुप में भी मनाया जाता है. यह त्योहार सिख धर्म को मानने वालों के लिए जितना खास है उसी प्रकार उन सभी के लिए विशेष है जो गुरु के प्रति भक्ति को जानते हैं. गुरु नानक जयंती कार्तिक माह के एक अत्यंत विशेष दिन पूर्णिमा तिथि पर  मनाई जाती है, इस दिन को अने नामों से भी जाता है जिसमें से प्रकाश पर्व या गुरु पर्व के रुप में यह विशेष दिन रहा है. 

जन्मकुंडली ज्योतिषीय क्षेत्रों में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है

यह त्यौहार सिख समुदाय के लिए सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है, क्योंकि इसी दिन सिख समुदाय की स्थापना करने वाले गुरु नानक देव का जन्म हुआ था. गुरु नानक देव सिख समुदाय के पहले गुरु थे और उन्होंने प्रत्येक जीवन को प्रकाशमय कर दिया था. आज भी उनकी शिक्षाएं उनके अनुनायियों के लिए श्रेष्ठ वचन के रुप में स्थापित हैं. 

शीघ्र धन प्राप्ति के लिए कराएं कुबेर पूजा 

गुरु नानक जयंती 2023 समय 
हर साल गुरु नानक जयंती का पर्व कार्तिक माह के शुभ समय पर मनाया जाता है इस दिन पर गुरुद्वारों में अखंड पाठ, नगर कीर्तन आदि अनुष्ठान जैसे कार्यक्रम धार्मिक अनुष्ठान संपन्न होते हैं.  भक्त उनकी कही बातों पर अमल करने का संकल्प लेते हैं.  इस साल गुरु नानक जयंती 27 नवंबर 2023 को भक्तों के द्वारा मनाई जाएगी. गुरु नानक देव का जन्म साल 1469 में कार्तिक पूर्णिमा के दिन हुआ था. कार्तिक पूर्णिमा तिथि 26 नवंबर 2023 को दोपहर 15.53 बजे से शुरू होगी और अगले दिन 27 नवंबर 2023 को दोपहर 14.45 बजे तक होगी

जन्मकुंडली ज्योतिषीय क्षेत्रों में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है

गुरु नानक जयंती महत्व 
गुरु नानक जी बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे. उनका जन्म पंजाब प्रांत तलवंडी में हुआ था. गुरु नानक जी की माता का नाम तृप्ता और पिता का नाम कल्याणचंद था. सिख धर्म को स्थापित किया तथा भक्तों को जीवन के उचित उद्देश्य को स्थापित किया. वह एक महान दार्शनिक, समाज सुधारक, धार्मिक सुधारक, साधु गुरु रुप में आज भी पूजनीय हैं. नानक का समर्पण ईश्वर के प्रति बहुत ऊंचा था, उनके बचपन में ही लोगों ने कई चमत्कार देखे हैं. गुरु नानक जी द्वारा जो शिक्षाएं दी गई हैं वह भक्तों को तृप्त कर देने वाली होती हैं. 
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support


फ्री टूल्स

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X