myjyotish

6386786122

   whatsapp

6386786122

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

विज्ञापन
विज्ञापन
Home ›   Blogs Hindi ›   Ganesha Chaturthi 2023: Know the secrets related to the idol of Lord Ganesha, its importance and benefits.

Ganesha Chaturthi 2023:   भगवान गणेश की मूर्ति से जुड़े रहस्य जानें इनका महत्व और लाभ

my jyotish expert Updated 11 Sep 2023 01:47 PM IST
Ganesha Chaturthi 2023
Ganesha Chaturthi 2023 - फोटो : my jyotish
विज्ञापन
विज्ञापन
गणेश चतुर्थी आते ही श्री गणेश जी की प्रतिमाओं की खरीद आरंभ हो जाती है भक्त अपने घरों में भगवान को स्थापित करने हेतु गणपति को घर ले आते हैं. ऎसे में गनेश प्रतिमाओं को खरीदते समय कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए क्योंकि इन्हें नजरअंदाज करना अशुभ हो सकता है. हिंदू पंचांग के अनुसार, गणेश चतुर्थी कई दिनों तक चलने वाला पर्व है. यह त्योहार पूरे देश में बड़े धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है. ऎसे में भगवान गणेश की मूर्ति को लेकर हर प्रतिमा का अपना विशेष महत्व माना गया है. इसलिए इन्हें खरीदते समय इन बातों का विशेष ध्यान रखें, इन्हें नजरअंदाज करना अशुभ हो सकता है. 

जन्मकुंडली ज्योतिषीय क्षेत्रों में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है

भगवान गणेश को विघ्नहर्ता भी कहा जाता है. लोग अपने घरों में सुख-समृद्धि और सभी कष्टों को दूर करने के लिए भगवान गणेश की मूर्ति रखते हैं. इतना ही नहीं लोग उपहार में भगवान गणेश की मूर्तियां भी देते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि भगवान श्रीगणेश को घर में रखने के कुछ नियम भी होते हैं. वास्तु के अनुसार अगर इन बातों को नजरअंदाज किया जाए तो यह अशुभ भी हो सकता है.

मात्र रु99/- में पाएं देश के जानें - माने ज्योतिषियों से अपनी समस्त परेशानियों 

प्रभु के विभिन्न रुप एवं प्रभाव 
पंचांग के अनुसार, गणेश चतुर्थी का पर्व भादो माह में विशेष रुप से संपन्न होता है. यह त्योहार पूरे देश में बड़े उत्साह और भक्ति के साथ मनाया जाता है. इन दिनों में भगवान गणेश के विभिन्न रूपों की पूजा की जाती है. यह त्यौहार विशेष रूप से महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक और उत्तर भारत में मनाया जाता है. इस त्योहार के दौरान लोग अपने घरों में भगवान गणेश की मूर्ति स्थापित करते हैं और अन्नत चतुर्दशी के दिन गणेश विसर्जन किया जाता है.

अब हर समस्या का मिलेगा समाधान, बस एक क्लिक से करें प्रसिद्ध ज्योतिषियों से बात

घर की किसी भी दीवार या कोने में बिना सोचे-समझे भगवान गणेश की मूर्ति नहीं रख सकते. घर में बाथरूम की दीवार पर भगवान गणेश की मूर्ति न लगाएं. इतना ही नहीं घर के शयनकक्ष में भगवान गणेश की मूर्ति रखना भी शुभ नहीं होता है. ऐसा करने से दांपत्य जीवन में कलह और पति-पत्नी के बीच अनावश्यक तनाव बना रहता है. वास्तु शास्त्र के अनुसार, भगवान गणेश की नृत्य करती हुई मूर्ति घर पर न लाएं और न ही किसी को उपहार में दें. कहा जाता है कि घर में गणेश जी की नृत्य करती हुई मूर्ति रखने से घर में कलह होती है. वहीं अगर आप इसे किसी को उपहार में देते हैं तो उनके घर में भी कलह बनी रहती है.

अगर आप गणपति को घर ले जा रहे हैं तो ऐसे गणपति खरीदें जिनकी सूंड बाईं ओर हो. घर में हमेशा वाममुखी गणपति को ही लाना चाहिए. क्योंकि दाहिनी ओर सूंड वाले गणपति की पूजा करने के लिए पूजा के विशेष नियमों का पालन करना पड़ता है.
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support
विज्ञापन
विज्ञापन


फ्री टूल्स

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
X