Apne V Apne Parivar Ke Ache Swasthya Ke Liye Karaayein Mahamritingyu Jaap Fifty One Thousand Mantras
myjyotish
हेल्पलाइन नंबर

9818015458

  • login

    Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Astrology Services ›   Puja ›  

Apne V Apne Parivar Ke Ache Swasthya Ke Liye Karaayein Mahamritingyu Jaap Fifty One Thousand Mantras

अपने व अपने परिवार के अच्छे स्वास्थ्य के लिए कराएं महामृत्युंजय जाप – 51,000 मंत्र

By: माई ज्योतिष विशेषज्ञ

Rs. 40,000
Buy Now

मंत्र उच्चारण के लाभ :- 

  • प्रियजन मानसिक, भावनात्मक और शारीरिक रूप से सुरक्षित रहते है। 
  • स्वास्थ्य सम्बंधित ख़तरों से दुरी रहती है। 
  • दीर्घायु का आशीर्वाद प्राप्त होता है।
  • जीवन में सुख -समृद्धि का वास होता है ।
  • व्यापारिक क्षेत्र में कुशलता प्राप्त होती है।

महामृत्युंजय मंत्रों का जाप क्यों महत्वपूर्ण है ?

  • ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार यदि किसी व्यक्ति को ग्रहों में पीड़ा का योग है या वह किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित है तो यह मंत्र की शक्ति उसे इस व्यथा से बाहर आने का मार्ग प्रकाशित करता है।
  • यदि किसी व्यक्ति को धन - संपत्ति में निरंतर क्षति भोगनी पड़ रही हो या वह किसी ज़मीन या क़ानूनी लड़ाई से परेशान हो ,तो यह मंत्र ही उसके हल का मुख्य उपाय है।
  • यह मंत्र मेलापक में नाड़ीदोष ,षडाष्टक,धार्मिक कार्यों में विमुखता एवं मनुष्यों के बीच हो रहे कलह -कलेश का नाश करने की क्षमता रखता है।   

महामृत्युंजय मंत्र के जाप के समय इन बातों का रखें ख़ास ख्याल:-

महामृत्युंजय का मंत्र जाप बहुत शक्तिशाली एवं कल्याणकारी मंत्र है। परन्तु इस मंत्र के उच्चारण के समय कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत आवश्यक है जिससे मंत्रों द्वारा प्राप्त फल पूर्णता मंगलकारी हो और उसमें किसी प्रकार के अशुभता का संयोग न बने।

  • मंत्रों का उच्चारण शुद्धता से किया जाना चाहिए। मंत्रों का जाप जब भी करें सदैव पूर्व दिवस की संख्या के समान या अधिक करें।
  • मंत्रों की संख्या पिछले दिन के हिसाब से घटनी नहीं चाहिए।
  • मंत्रों का उच्चारण सदैव धीमे स्वर में किया जाना चाहिए एवं उच्चारण के समय धुप -दीप का प्रज्वलित रहना आवश्यक है।
  • मंत्रों का उच्चारण रुद्राक्ष की माला पर ही किया जाना चाहिए। जप के समय माला गौमुखी में ही रहनी चाहिए।
  • महामृत्युंजय के मंत्रों का जप महाकाल की प्रतिमा या शिवलिंग के समक्ष कुश के आसान पर बैठकर करना आवश्यक होता है।
  • महामृत्युंजय मंत्र का पूर्ण पूजन पूर्व दिशा की ओर मुख करके ही संपन्न करना चाहिए , जप के समय शिवलिंग पर दूध या जल से अभिषेक अनिवार्य है।
  • जप के आरम्भ एवं आगामी के दिनों का स्थान एक ही होना चाहिए।
  • महामृत्युंजय के मंत्रों के जाप काल में मन व ध्यान एक स्थान पर नियंत्रित रहना जरुरी है। इसके बीच आलस्य या उबासी का कोई स्थान नहीं होना चाहिए।
  • जप काल में ब्रह्मचर्य धारण करना जरुरी है। इस समय अनुचित वार्ता से दुरी बनाएं रखे एवं मांसाहार का सेवन भी न करें। 

शिव अर्थात महादेव आरण्य शक्ति है। वह संहार के देवता माने जातें है। उनकी महिमा से व्यक्ति का जीवन खाक से आसमान तक उठ जाता है।शिव संसार की परम शक्ति है। वह ब्रह्माण्ड की उत्पत्ति एवं नाश का श्रोता माने जाते है। पौराणिक कथन के अनुसार शिव की संसार के आदि व अनंत काल तक समाएं हुए है। उनसे आशीर्वाद प्राप्त किया व्यक्ति  कभी किसी कार्य में असफल नहीं होता। अर्थात उसके द्वारा पूर्ण किए कार्यों का फल सदैव मंगल ही होता है। 
महामृत्युंजय मंत्र भगवान शिव को समर्पित है। यह मंत्र इतना दिव्य एवं शक्तिशाली है की उसके जाप से व्यक्ति मृत्यु को भी पराजित कर सकता है।इस मंत्र की शक्ति के कारण व्यक्ति को लंबी उम्र का आशीर्वाद की प्राप्ति होती है। महामृत्युंजय मंत्र के जाप से व्यक्ति का स्वास्थ सदैव सकुशल रहता है तथा उसका कोई कुछ नुकसान नहीं कर पता है। इससे असयमिक मृत्यु का भय भी समाप्त होता है ।

हमारी सेवाएं :-
अनुष्ठान से पहले हमारे युगान्तरित पंडित जी द्वारा फ़ोन पर आपको संकल्प करवाया जाएगा। पंडित जी द्वारा पूर्ण विधि -विधान से मंत्रों का जाप किया जाएगा। पूजा का प्रसाद भी भिजवाया जाएगा।

प्रसाद :-
1. पवित्र उर्जित कलावा की रील 
2. होमा अग्नि से पवित्र यज्ञ राख

जानिये हमारे पंडित जी के बारे में

अस्वीकरण : myjyotish.com न तो मंदिर प्राधिकरण और उससे जुड़े ट्रस्ट का प्रतिनिधित्व करता है और न ही प्रसाद उत्पादों का निर्माता/विक्रेता है। यह केवल एक ऐसा मंच है, जो आपको कुछ ऐसे व्यक्तियों से जोड़ता है, जो आपकी ओर से पूजा और दान जैसी सेवाएं देंगे।

Ratings and Feedbacks

  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X