myjyotish

9818015458

   whatsapp

8595527216

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Blogs Hindi ›   Weekly Love Rashifal 21 to 27 September mesh vrishabha kanya tula mithun rashi

Weekly Love Horoscope: साप्ताहिक लव होरोस्कोप (21 सितम्बर से 27 सितम्बर, 2020 तक)

R K Shridharआर के श्रीधर Updated 20 Sep 2020 12:21 PM IST
साप्ताहिक लव होरोस्कोप: 21 से 27 सितम्बर 2020
साप्ताहिक लव होरोस्कोप: 21 से 27 सितम्बर 2020 - फोटो : Myjyotish

                                   प्यार में हम प्रायः जिंदगी के सकारात्मक पक्ष को ही देखते हैं l प्रेमभाव में साथी की हर बात पर सहज विश्वास कर लिया जाता हैl विचार और तर्क के स्थान पर भावना हावी हो जाती हैl वैज्ञानिकों की मानें तो प्यार होने पर शरीर में एक ख़ास हार्मोन का प्रवाह बढ़ जाता है। इनमे से एक हार्मोन है ‘ऑक्सीटोसिन’, जिसे लव गुरु लोग 'लव हार्मोन' कहते हैंl लेकिन हमारी भावनाएं, क्रिया-कलाप आदि बहुत कुछ ग्रहों की चाल पर निर्भर है l इस सप्ताह मुख्यतःराहू का राशि परिवर्तन उल्लेखनीय हैl 23 सितम्बर, बुधवार को प्रातः राहू 07:38 बजे वृषभ में चले जायेंगेl वैसे तो स्पष्ट राहू 19 सितम्बर को ही वृषभ में पधार चुके हैंl इसका विभिन्न राशियों पर सकारात्मक और नकारात्मक दोनों ही प्रभाव पड़ेगाl थोड़ा सतर्क होकर रहना ही अच्छा हैंl कुछ लोग प्यार में धोखे के शिकार हो सकते हैंl पारिवारिक मतभेद उभर सकते हैंl धनहानि की भी सम्भावना बन सकती हैl मंगल वक्री होकर मेष राशि में तथा सोमवार को बुध उच्च के होकर कन्या राशि में रहेंगे लेकिन मंगलवार शाम को राशि परिवर्तन कर तुला में चले जायेंगेl केतु के गुरु का साथ छोड़ देने से गुरु की पवित्रता निखर जाएगीl शनि महाराज यथावत वक्री होकर मकर में विराजमान हैंl देखते हैं, सभी बारह राशियों के लिए इस सप्ताह का लव होरोस्कोप:  

मेष 

                      पंचमेश सूर्य छठे भाव में उच्च के बुध के साथ विराजमान हैं और शुक्र चौथे भाव से गोचर कर रहे हैंl राशिस्वामी मंगल वक्री होकर आपकी राशि में ही हैंl प्रेमप्रसंग के मामले में ये सप्ताह औसत रहेगाl बातचीत में वर्चस्व कायम करने के प्रयास से आपका साथी बुरा महसूस कर सकता हैl साथी की सफलता पर खुश होकर बधाई दें ना कि खुद से तुलना करने बैठ जाएँl आपके आकर्षक चुंबकीय व्यक्तित्व के कारण विपरीत लिंगी आपसे आकर्षित होंगे. क्रोध, भावुकता और कामुकता-तीनों पर नियंत्रण रखना होगाl आपका साथी आपके प्रति समर्पित रहेगाl सप्ताह मध्य में दाम्पत्य जीवन में भी कलह-क्लेश की सम्भावना हैl यदि आपकी जन्म कुंडली में शुक्र कमजोर है तो नीरसता का सामना करना पड़ सकता है.

वृषभ 

                      आपका पंचमेश बुध पांचवें भाव में हैं और राशि स्वामी शुक्र तीसरे भाव में चन्द्रमा के साथ युति में हैंl लव लाइफ के लिए ये सप्ताह संभावनाओं से भरा हुआ हैl लेकिन अंतरंगता के लिए बेचैनी आपको अपने साथी की नजरों से गिरा सकता हैl संयम से काम लेंl यदि अपने समय के हिसाब से काम किया तो आपकी भावनाओं का पूर्ण सम्मान होगा और आपके साथी का सहयोग भी मिलेगाl पारिवारिक जीवन में कलह को टालें अन्यथा बात बढ़ेगीl जिनका प्रेम सम्बन्ध बहुत दिनों से चल रहा है, उनके संबंधों में परिपक्वता आएगीl वाणी पर नियंत्रण रखें खासतौर पर बडबोलेपन से बचेंl यात्रा या पारिवारिक समारोह में अपने जीवनसाथी के साथ ही सम्मिलित होंl 

 

मिथुन 

                     आपका राशि स्वामी बुध मंगलवार को पांचवें भाव में चला जायेगाl आपकी राशि में ही राहू मौजूद हैंl पंचमेश शुक्र आपके द्वितीय भाव में हैंl शुरुआत तो शानदार होगीl आपके मन में संतोष का भाव जागृत होगा और आप सही निर्णय ले सकेंगे और साथी भी आपसे प्रभावित रहेंगेl प्रेम की गंभीरता को आपको समझना होगा, यदि अपने एकसाथ अधिक प्रेम सम्बन्ध स्थापित करने की कोशिश की जासूसी हो जाएगीl अपने करीबी दोस्तों से भी सावधान रहने की आवश्यकता हैl दाम्पत्य जीवन में मधुरता रखने की पहल करेंl लापरवाही से नीरसता होगी और दिल की बात तो अपने दोस्तों से बिलकुल ना करेंl याद रखिये, वैवाहिक तनाव का ये पहला कदम होता हैl 

कर्क

                   आपका राशिस्वामी चंद्रमा सोमवार को चतुर्थ भाव में मौजूद हैंl सप्ताहांत तक ये आपके सप्तम  भाव में पहुँच कर शनि के साथ विषयोग का निर्माण करेंगेl पंचमेश मंगल वक्री होकर आपके दशम स्थान से गोचर कर रहे हैंl प्यार के मामले में घरवालों से मतभेद हो सकते हैं जिन्हें आप अपने चहेते साथी को बताकर उनका मूड ख़राब नहीं करना चाहेंगेl इस अवधि के दौरान प्रेम संबंधों में शिथिलता बनी रहेगीl आपका अहंकार भी घटता-बढ़ता रहेगा जिससे लोग भ्रमित रहेंगेl राशि में शुक्र की उपस्थिति से बहुत अप्रिय स्थिति का सामना करने से बाख जायेगेl जीवनसाथी के साथ विवाद होगा लेकिन प्रतिशोध के लिए उलटी-सीधी हरकत करने से बचेंl स्वास्थ भी ढीला ही रहेगाl 

सिंह 

                    आपका राशिस्वामी सूर्य दुसरे भाव में उपस्थित हैl पंचमेश गुरु पंचम भाव में केतु के साथ युति बनाकर हैंl शुक्र आपकी राशि से बारहवें गोचर कर रहे हैंl प्यार में गोते लगाना तय है। आप अपने अंदर भावनाओं का तीव्र उफान महसूस करेंगे और अपने साथी का सहयोग भी मिलेगाl यहाँ तक कि आप यदि कोई ज्ञान भी बघारेंगे तो साथी से उसका भी समर्थन मिलेगाl परिवार और सगे-सम्बन्धियों से मधुर सम्बन्ध होंगे लेकिन जीवनसाथी के साथ मनमुटाव भी रहेगाl सामाजिक सरोकार भी इस सप्ताह आपकी व्यस्तता का कारण होगाl यह समय रोमांस के लिए अच्छा रहेगा और नए संबंध बनाने के लिए भी अनुकूल रहेगाl आपको नए संबंधों के निर्माण में सावधान रहनाचाहिएl 

कन्या 

                  राशिस्वामी बुध सोमवार को उच्च का होकर आपकी राशि में ही विराजमान हैं, लेकिन मंगलवार को दुसरे भाव में चले जायेंगेl पंचमेश शनि पंचम भाव में ही मौजूद हैंl सूर्य आपकी राशि में हैं, इसलिए आप स्वभाव से बहुत मजबूत, लेकिन घमंडी, अहंकारी होने लगेंगे जबकि आप भावनात्मक रूपसे बहुत समर्पित रहते हैं और नेक दिल वाले हैं. आप प्रेम संबंधों में पूरी तरहसे शामिल होंगे वो भी बिना किसी छल या दिखावे के समर्पण का भाव रखते हैंl जिनकी जन्मकुंडली में शुक्र पीड़ित है वह अतिरिक्त प्रेम संबंधों में अधिक लिप्त रहने से बचेंl वक्री  मंगल के कारण आपको अपने प्रियजनों का सहयोग और समर्थन भी प्राप्त नहीं होगा, समस्याएं बढ़ सकती हैंl

तुला 

                     सोमवार को चन्द्र आपकी राशि से गोचर करेंगे और मंगलवार को बुध आपकी राशि में पदार्पण करेंगेl  आपका राशिस्वामी शुक्र आपके दशम भाव में विराजमान हैंl पंचमेश शनि चतुर्थ भाव से गोचर कर रहे हैं और आपकी राशि को दशम दृष्टि से देख रहे हैंl आप एक अच्छे प्रेमी साथी हैंl आप अच्छे स्वभावके और हंसमुख हैं. आपके इसी स्वभाव के करण विपरीत लिंगी आपसे जल्द ही आकर्षित होते हैंl गुप्त रूप से प्रेम और नए प्रेम संबंधों के निर्माण के लिए बहुत अच्छा है लेकिन संभावना है कि आप किसी गलत संगत में भी पड़ सकते हैंl सप्ताहांत में थोड़ी बदनामी भी हो सकती हैl आपको दूसरों को खुशी देने में खुशी मिलेगीl 

वृश्चिक 

                     शुक्र आपके दशम भाव से गोचर कर रहे हैंl आपके राशि स्वामी मंगल वक्री होकर छठे स्थान से गोचर कर रहे हैंl पंचमेश गुरु केतु के साथ आपके द्वितीय भाव में मौजूद हैंl आपके अपने साथी यानि प्रेमी के साथ विचारों को लेकर मतभेद उत्पन्न हो सकते हैl इस कारण अलगाव भी हो सकता हैl बात-बात पे क्रोध ओकी स्थिति को और गंभीर बना देगा l अपनी आँखें खुली रखें और चारों ओर निगाह रखेंl सामान्यतः आप अपने रिश्ते और प्रेम में गंभीरता के साथ गहराई से जुड़े रहेंगेl आप जिनके साथ अपने संबंध बना रहे हैं या दोस्ती का इरादा रखते हैं, उनके बारे में कुछ जानकारी अवश्य रखेंl आक्रामक दृष्टिकोण को छोड़ कर शांत भाव से कार्य करना चाहिएl 

धनु 

                      पंचमेश मंगल वक्री होकर आपके पांचवें भाव से ही गोचर कर रहे हैंl राशिस्वामी गुरु महाराज आपकी राशि में  केतु के साथ युति बनाकर विराजमान हैंl आप भावनात्मक रूप से निराशा हो सकते हैंl इस अवधि के दौरान आपके प्रेम संबंधों में तकरार या दरार उत्पन्न होसकती है और मानसिक परेशानियां बढ सकती हैl अति आदर्शवादी बातों के कारण आपके संबंधों में मतभेदकी संभावना बन सकती हैl अत: शांत रहें और सही समय का इंतजार करेंl सप्ताह मध्य के बाद आप अपने भीतर कुछ बदलाव महसूस करेंगेl यह समय आपके लिए अनुकूल होगाl आप अपने खास साथी के साथसमय बिता सकेंगेl जीवनसाथी के साथ अनावश्यक बहसबाजी से बचेंl 

मकर 

                      आपका राशि स्वामी शनि महाराज आपकी राशि से ही वक्री होकर गोचर कर रहे हैंl पंचमेश शुक्र आपके सातवें स्थान से गोचर में हैंl आप में प्रेम पानेकी चाहत भी खूब रहती है आप साथी के बिना नहीं रह सकतेl इस अवधि के दौरान आप लोकप्रियता हासिल कर सकेंगेl अपने साथी से मिलते रहें और प्रेम में प्रगाढ़ता लाने का प्रयास करेंl विवाहयोग्य लोगों की बात-चीत होगी लेकिन विवाह में अभी समय हैl दाम्पत्य जीवन बढ़िया रहेगा और प्रेम-प्रदर्शन का कोई मौका आप बेकार नहीं जाने देंगेl अगर आप किसी को मन ही मन चाहते हैं और परिवार या समाज के लिहाज के कारण व्यक्त नहीं कर पाए हैं, तो अभी आप सीधे-सीधे कह सकेंगेl

 

कुम्भ 

                     पंचमेश बुध सोमवार को उच्च का होकर अष्टम भाव में विराजमान हैं और मंगलवार को आपके भाग्यभाव में चले जायेंगेl साथ ही पंचम में राहू उपस्थित हैl आपके राशिस्वामी शनि वक्री होकर आपके बारहवें भाव से गुजर रहे हैंl प्यार और रिश्तों के निर्माण में आप अधिक कुशल नहीं रह पाएंगे इस सप्ताहl आप एक लंबे समय से स्थायी संबंधों का निर्माण करने में समर्पित रहे हैंl हालाँकि, इस अवधि के दौरान, प्यार का प्रतीक शुक्र ग्रह गोचर में सातवें भाव में विचरण कर रहा है. इसलिए इस अवधि के दौरान प्रेमसंबंधों में सुधार होगा. वैवाहिक जीवन सुखद और भावपूर्ण रहने के कारण समय आनंदपूर्वक बीतेगाl लेकिन नए प्रेम के प्रस्तावों को पहले परखेंl  

मीन 

                   पंचमेश चन्द्रमा सप्ताह के आरंभ में आपके अष्टम भाव में हैं लेकिन सप्ताहांत तक ये आपके एकादश भाव में आ जायेंगेl आपके राशिस्वामी गुरु महाराज दशम भाव से केतु के साथ गोचर कर रहे हैंl हालाँकि यह समय प्रेम संबंधों के लिए अधिक अच्छा नहीं हैl फिर भी  इस दौरान आपका जीवन साथी आपके लिए अच्छा भाग्य लाएगाl आप चाहें तो अपने रिश्ते को पक्का करने के लिए आपस में एक वादा करें, इससे आपको एक-दूसरे से आंतरिक लगाव पनपेगा। अपने अहंकार को थोड़े समय के लिए दूर रखें और कलह-क्लेश की किसी भी सम्भावना को ना बनने देंl वैवाहिक जीवन में थोड़ी बहुत असहमति या मतभेद सामान्य व स्वाभाविक है।


 
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X