myjyotish

8595527216

   whatsapp

8595527218

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Blogs Hindi ›   Weekly Love Horoscope 11 To 17 january

नववर्ष किन राशियों में लाया है ढेर सारा प्यार और रोमांस, जानें अपने साप्ताहिक लव राशिफल से ! - आर के श्रीधर

Myjyotish Expert Updated 10 Jan 2021 12:10 PM IST
Astrology
Astrology - फोटो : Myjyotish

 

                      इस सप्ताह गुरुवार यानि 14 जनवरी को प्रातः सूर्य देवता 08:29 बजे मकर राशि में प्रवेश करेंगे l सूर्य को सभी ग्रहों का राजा कहा जाता है। सूर्य पूर्वज, राज्य, राजनीति, सम्मान, आँखे तथा आत्मा का कारक हैl सूर्य का यह गोचर जहाँ एक ओर मेष, वृषभ, कन्या, वृश्चिक और मीन राशि के जातकों के लिए शुभ है तो वहीँ यह संक्रांति मिथुन, कर्क, तुला, धनु, मकर और कुम्भ राशि के जातकों के लिए कष्टकारी हो सकती है l सूर्य मानव शरीर में हड्डियों पर अधिकार रखता है तथा पित्तकारक होता है। यह मनुष्य को आत्मबल देता है और इसे आरोग्य का कारक भी माना जाता है। यह अग्नि तत्व का प्रतिनिधित्व करता है। वहीँ मकर चर स्वभाव  और पृथ्वी तत्व की राशि है l इस गोचर का फल बहुत अच्छा नहीं कहा जा सकताl व्यक्ति स्वार्थी होकर सिर्फ अपने फायदे के लिए प्रयत्नशील रहता हैl महिलाओं से प्रेम करने वाला तो होता है लेकिन संबंधों की शुचिता पर कम ही ध्यान रहता है l असंतोष और बेचैनी बढ़ जाती है l इस सप्ताह घूमने फिरने का मन कर सकता है l आपके कार्यों से दूसरे नाराज हो सकते हैंl सभी को साथ लेकर चलने की क्षमता कम हो जाती है l लेकिन व्यवहारिक निर्णय लेने की क्षमता बढती है और भावनाओं में बहकर अपना नुकसान नहीं करते हैं l वृषभ राशी में राहू, धनु में शुक्र और मकर में शनि, गुरु उपस्थित हैं l मंगल का विचरण मेष राशि से हो रहा है l l आइये देखते हैं, सभी बारह राशियों के लिए इस सप्ताह का लव राशिफल:  

मेष 

                      राशिस्वामी मंगल आपकी राशि से गोचर कर रहे हैं l पंचमेश सूर्य नवें भाव से शुक्र के साथ गोचर कर रहे हैं, लेकिन गुरुवार को सूर्य आपके कर्मस्थान में गुरु-शनि तथा बुध के साथ पहुँच जायेंगेl यदि कोई मंहगी वस्तु उपहार स्वरुप देकर या उनके लिए कोई जरुरी आइटम खरीदकर आपको लगता है कि आप अपने प्रियपात्र को प्रभावित कर सकते हैं, तो शायद अभी ये काम करने वाला नहीं हैl प्रेम में सहज हों, उतावलापन या कहिये पागलपन कोई तरीका नहीं है और ना ही आपकी किसी से इस सम्बन्ध में कोई प्रतियोगिता है l ये सप्ताह शांत और सरल रहने का है l आप प्यार, रिश्तों की अहमियत और रोमांस में नयापन लाकर भी अपना पक्ष मजबूत कर सकते हैं l चूँकि आपका सम्बन्ध पुराना है इसलिए सम्बन्ध को सही दृष्टिकोण के साथ बनाये रखने भर से आप प्रसन्न रहेंगे l आपका स्वाभाविक व्यवहार आपके साथी को अधिक आकर्षित करेगा और यह तनावपूर्ण भी नहीं होगाl दाम्पत्य जीवन मधुर रहेगाl यदि आपको किसी पुराने मुद्दे पर चर्चा ही करनी है तो तार्किक समाधान खोजें, बहसबाजी ना करें l 

वृषभ 

                     आपके राशि स्वामी शुक्र आठवें भाव से सूर्य के साथ गमन कर रहे हैंl  राहू आपकी राशि से गोचर कर रहे हैंl आपका पंचमेश बुध नवम भाव में सूर्य से अस्त होकर गुरु-शनि के साथ गोचर कर रहे हैंl सप्ताह की शुरुआत में आपके साथी का रवैया ताजगीभरा और आश्वस्त करने वाला होगा। उससे बात करना आपके मन को सुकून देगा और इस कारण आप अपने साथी के साथ अधिक समय बिता पाएंगे। ऐसा भी नहीं है कि आपका खुद का आत्मविश्वास कमजोर है और आपको अपने साथी से सकारात्मक तरंग की आवश्यकता है जो आपको प्रेरित कर सके l फिर भी अच्छे वातावरण में बातचीत इस सप्ताह आपको आनंद से सराबोर कर देगी l शारीरिक स्तर पर किसी भी जुनून को स्थिर रखने पर ध्यान रखना भी जरुरी है l भले ही आपको अपना रासायनिक उन्माद सही लगे और छेड़छाड़ अपना अधिकारl अभी एक छोटी यात्रा भी सकती है जो संभवतः किसी धार्मिक स्थल की होगी जिससे आपकी बैटरी रिचार्ज होगी और आपके प्रेमसंबंध भी मजबूत होंगे l यदि अभी थोड़े समय पहले आपका ब्रेकअप हुआ है तो यह आपके पुराने संबंधों के घावों को भरने और आगे बढ़ने का एक अच्छा समय होगा।

मिथुन 

                     आपके राशि स्वामी बुध अस्त होकर आठवें भाव से गुरु-शनि के साथ गोचर कर रहे हैं l पंचमेश शुक्र सूर्य के साथ सप्तम भाव में गोचर कर रहे हैं लेकिन गुरुवार को सूर्य आठवें भाव में चले जायेंगेl यदि अभी भी आप अपने प्रेमसाथी के बारे में पूरी तरह आश्वस्त नहीं हैं और आपके मन में कभी हाँ कभी ना चल रहा हो और इस कारण उसे अपने परिवार से अभी तक ना मिलवाया हो तो अभी थोडा और रुक ही जाइएl दूसरी बात, अपने पिछले साथी से इनकी तुलना करने की कोशिश ना करें, इससे मन में अनावश्यक नकारात्मक ख़याल आएंगे जो आपका वर्तमान मलिन करेंगे l आपका प्रियपात्र आपके लिए क्या मायने रखता है और आपको आगे क्या करना चाहिए, यह पूरी तरह से आपके दृष्टिकोण पर निर्भर हैl लेकिन इस मामले में छलांग लगाने की जगह स्थिरता से विचार करना चाहिए l विवाहित वर्ग अपने जीवनसाथी के साथ किसी रोमांटिक जगह पर घूमने जा सकते हैं l आप अपने साथी की उन बातों को भी समझ पाएंगे जो वो कहते नहीं हैं, इससे वैवाहिक जीवन में अनुकूलता बनी रहेगीl      

कर्क

                     आपका राशिस्वामी चंद्रमा इस सप्ताह आपके पांचवें भाव से गोचर करते हुए सप्ताहांत तक आपके आठवें भाव में आ जायेंगे l पंचमेश मंगल आपके दशम स्थान से गोचर कर रहे हैंl केतु पंचम में उपस्थित हैं l सप्ताह के आरंभ में इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ेगा कि आप भावनात्मक स्तर पर रोमांस करते हैं या दैहिक स्तर पर आनंद लेना चाहते हैं, आप जो भी चुनेंगे, सही चुनेंगे l सप्ताह अनुकूल है इसलिए जो भी करेंगे उसका सकारात्मक प्रभाव ही पड़ेगाl सपने देखिये, जुनून महसूस कीजिये, इस समय आपके साथी का भी पूर्ण सहयोग और समर्थन आपको मिलने वाला हैl फिर भी अपना रुख लचीला बनाये रखिये, इससे कभी अनिश्चितता भी आएगी तो आपको आगे बढ़ने का रास्ता मिल जायेगाl थोडा वातावरण को हल्का-फुल्का और विनोदपूर्ण रखिये, इससे आप अपने साथी के मनोभावों का सटीक अनुमान लगा सकते हैं l सामाजिक जिम्मेदारियों का भी निर्वहन करना होगा, इसलिए उधर भी जुड़ाव रखना पड़ेगा l जो अकेले हैं उन्हें डेटिंग का अवसर मिलेगा और साथी विशेष की खोज का सार्थक परिणाम आ सकता है l हर हाल में आत्मविश्वास बनाये रखना होगा l 

 

सिंह 

                      आपका राशिस्वामी सूर्य पांचवें भाव में शुक्र के साथ उपस्थित है, लेकिन मकर संक्रांति को छठे भाव में पहुँच जायेंगेl पंचमेश गुरु भी छठे भाव नीच का होकर शनि की युति में हैंl सप्ताह की शुरुआत में प्रेम जीवन में कुछ निराशा महसूस कर सकते हैं l नकारात्मक विचारों से मन अशांत रह सकता है l कुछ चीजों को आप अपने मान-सम्मान के अनुरूप नहीं पाएंगे l लेकिन सप्ताह मध्य के बाद स्थितियां सुधरने लगेंगी और आप प्रेम सम्बन्ध में एक सार्थक बदलाव महसूस करेंगे l इसका लाभ उठाइये और संबंधों को गहरे स्तर पर महसूस कीजिये l अपने साथी से अलग कुछ भी करने की कोशिश से बचना चाहिए l जो अकेले हैं, खासतौर पर वो नया रिश्ता जोड़ते समय और प्रेम संबंधों में पड़ते समय उस व्यक्ति पर बहुत जल्दी विश्वास ना करें। खुद भी बेसब्र होकर अपने बारे में बहुत अधिक ना ही बताएं और ना ही शेखी बघारें l सुनें अधिक बोलेन कमl पत्नी के साथ इस सप्ताह आपके संबंध अच्छे रहने वाले हैं दोनों के बीच मधुर संबंध रख सकते है। किसी धार्मिक आयोजन में दोनों शामिल होंगेl 

कन्या 

                   राशिस्वामी बुध पंचम भाव में अस्त होकर गुरु एवं पंचमेश शनि के साथ युति बना रहा है l पंचम भाव में ही नीच के गुरु महाराज भी मौजूद हैंl हालाँकि आपकी इच्छा और लगन इस सप्ताह  आपके लिए इतनी प्रबल नहीं है। आप भौतिक चीजों के साथ-साथ अपनी भावनात्मक जरूरतों और अपने प्रियपात्र की जरूरतों पर भी विशेष ध्यान देना चाहते हैं लेकिन कार्य की अधिकता से और परियोजना को नियत समय पर लागू करने के दबाव के कारण आपका ध्यान बंटा हुआ रहेगाl यदि आप शादीशुदा हैं तो घरेलू मोर्चे पर आपको उदासीन रवैये का सामना करना पड़ सकता है l जीवनसाथी की बात पर प्रतिक्रिया देने से बचें l यहाँ तक कि आपके प्रियपात्र के बारे में भी आपके घर के लोग कोई रूचि नहीं दिखायेंगेl इसका कारण संभवतः आपकी प्रियतमा के बारे में कुछ पूर्वाग्रह से युक्त धारणाएँ हो सकती हैं। लेकिन आपको उग्र होने की जरुरत नहीं है और ना ही तीव्र प्रतिक्रिया देने की जरुरत है, बल्कि समय का इंतजार कीजिये, उनका ह्रदय परिवर्तित होने का इंतजार बेहतर होगा l आपका अपने प्रियतम के साथ सही सामंजस्य विद्यमान है, यही काफी है l  

तुला 

                    आपका राशिस्वामी शुक्र आपके तृतीय भाव से सूर्य और बुध के साथ गोचर कर रहे हैंl पंचमेश शनि चतुर्थ भाव से नीच के गुरु के साथ गोचर कर रहे हैं और आपकी राशि को दशम दृष्टि से देख रहे हैंl यदि आप अपने स्थिर प्रेम जीवन में सक्रिय दृष्टिकोण अपनाते हैं, तो आप एक जीवंत और जिंदादिल साथी का आनंद ले पाएंगे। जल्दबाजी में कोई फैसला करते हैं तो परेशानी होगी l यदि आप दूसरों के कहने पर बिना सत्यता परखे कोई निर्णय लेते हैं तो आपको अपने प्रियपात्र की नाराजगी झेलनी पड़ जाएगी l अपने मूल दार्शनिक स्वाभाव को भी बनाये रहिये और कुछ भौतिक स्तर पर भी करते रहियेl इससे आपसी आकर्षण बना रहेगा और प्रेम उर्जा निरंतर आप दोनों को सक्रिय रखेगी l बहुत संभव है कि आपदोनों ही अपने प्रेम सम्बन्ध को विवाह तक ले जाने के लिए सहमत हों और इसमें आपके घरवालों को कोई आपत्ति भी नहीं होगी l इसे ध्यम में रक्खते हुए आप दोनों सहमती से कुछ वित्तीय नियोजन भी कर सकते हैं-लघु अवधि और दीर्घ कालीन अवधि के लिए l यदि आप अकेले हैं, तो इस सप्ताह आपकी रोमांटिक संभावनाओं में एक अद्भुत बदलाव है।

वृश्चिक 

                    केतु आपकी राशि से गोचर कर रहे हैंl आपके राशि स्वामी मंगल छठे स्थान से गोचर कर रहे हैंl पंचमेश गुरु आपके तीसरे भाव से शनि के साथ गोचर कर रहे हैंl यदि आपके रिश्ते में कोई अस्पष्टता है, तो यह इस सप्ताह स्पष्ट होना ही है। हालाँकि एक दुसरे के प्रति लगाव अपार है फिर भी किसी ना किसी तरह का असंतोष भी दोनों महसूस कर रहे हैं l शायद यह बदलाव आपको एक नई दिशा की और जाने का संकेत दे रही है l शुरुआती संघर्षपूर्ण स्थितियां इस रिश्ते को आगे बढाने में बाधा डाल रही हैं l लेकिन फिर भी एक ठंडी सांस ले और अपने प्रियपात्र से एकबार फिर बात करेंl एक दुसरे के असंतोष का निवारण करें और फिर गाड़ी पटरी पर लायें l आपको अपना व्यवहार पारदर्शी रखना होगा ताकि उनको कोई संदेह हो ही ना सके l यदि आप किसी समस्या से अकेले जूझ रहे हैं तो उनको भी इसमें शामिल कीजिये l अपने प्रियपात्र से विस्तार से चर्चा करेंl क्योंकि ग्रहों के योग बता रहे हैं कि संवाद अस्पष्टता के अलावे और कोई भीतरी कारण नहीं है l इसलिए बात सुलझ सकती है l 

धनु 

                     राशिस्वामी गुरु महाराज नीच का होकर शनि महाराज और अस्त बुध  के साथ आपके द्वितीय भाव में विराजमान हैंl शुक्र और सूर्य आपकी राशि में मौजूद हैं l पंचमेश मंगल आपके पांचवें भाव से गोचर कर रहे हैंl इस सप्ताह आपकी व्यावसायिक ज़िम्मेदारियों से आपका प्रेम जीवन गड़बड़ा सकता है। यदि संभव हो, तो आप अपने कुछ कार्यों को अपने सहयोगियों को सौंप सकते हैं और बाहर जाकर अपने साथी की कंपनी का आनंद ले सकते हैं। चूँकि आप बौद्धिक और भावनात्मक दोनों ही स्तर पर एक उत्कृष्ट व्यक्ति हैं, इसलिए आप अपने साथी को समझाने में सफल भी रह सकते हैं l अपनी कार्य-व्यस्तता और रोमांस के बीच संतुलन को बनाने के लिए कुछ वास्तविक प्रयास करने की जरुरत हैl सहज रहें और अपने आत्मिक साथी को खुश करने का प्रयास करेंl कुछ ऐसे प्रेमी-प्रेमिका जिनका कार्यस्थल साझा है यानि एक ही जगह काम करते हैं, उन्हें कम ग़लतफ़हमी होगीl लेकिन ऐसे जोड़े को मित्रों से बचना होगा और मित्रों और सहयोगियों से इस मामले में कोई बात नहीं करनी चाहिए l गॉसिप से दूर रहें और इस आधार पर अपना विचार ना बनायें l  आश्वस्त रहें और वर्तमान स्थिति का सामना करें। सफलता मिलेगी l 

मकर 

                     पंचमेश शुक्र आपके बारहवें भाव से सूर्य के साथ गोचर में हैंl राहू आपके पांचवें भाव में विराजमान हैं। आपके राशि स्वामी शनि महाराज आपकी राशि से ही नीच के गुरु और अस्त बुध के साथ गोचर कर रहे हैंl अपनी मानसिक बुद्धि पर अच्छी पकड़ बनाए रखें और अपनी क्षमता के अनुसार इसका उपयोग करें। आपको ऐसा लगने लगता है कि मानो आपने सप्ताह की शुरुआत में ही अपनी ऊर्जा खो दी है। संभावित कारण की खोज करने के लिए अपने साथी पर निर्भर रहने के बजाय, आपको अपनी आंतरिक शक्ति को बढ़ाने के लिए कुछ समय अकेले बिताना चाहिए और सोचना चाहिए कि आपको सबसे अधिक क्या प्रेरित करता है। क्योंकि आपका आत्मिक साथी आपकी परिस्थितियों से पूरी तरह से वाकिफ नहीं है l किसी भी स्थिति में अपने साथी के साथ पूर्ण सकारात्मक होकर ही व्यवहार करें l यदि आपके प्रियपात्र को आपकी मदद की जरुरत है तो अपनी परिस्थिति भूलकर उनकी मदद को आगे आयें और उसका समाधान करें l अपनी स्थितियों को अभी अपने भीतर ही रखें l जो अकेले हैं उन्हें भी थोड़ा सतर्क रहकर ही किसी मित्र के मित्र से मिलना चाहिए, हालाँकि यहाँ दोस्ती की भी सम्भावना प्रबल होगी, लेकिन थोड़ा रुककरl 

कुम्भ 

                  आपके राशिस्वामी शनि आपके बारहवें भाव से नीच के गुरु और पंचमेश अस्त बुध के साथ गुजर रहे हैंl शुक्र एकादश भाव से सूर्य के साथ  गोचर कर रहे हैंl यदि आप इस सप्ताह अपने किसी पूर्व प्रेमी/प्रेमिका से मिलते हैं तो बहुत भावुक होना बेवकूफी होगी l संयम और विवेक का उपयोग कर किसी परिचित की तरह औपचारिक रूप से ही मिलें l उनसे फिर से नए सिरे से सम्बन्ध बनाना मूर्खतापूर्ण विचार होगाl अपने वर्त्तमान साथी को बिना उनकी गलती के उन्हें परेशान ना करें l आपके लिए प्रेम-त्रिकोण में फंसना अत्यंत कष्टदायक हो जायेगा, भले ही ये अभी केवल मानसिक स्तर पर ही क्यों ना होl यदि आपने अपने पूर्व साथी के कहने पर उनकी मदद कर दी है तो ठीक हैl यदि आगे भी मदद करने की आवश्यकता हो तो कर दें, लेकिन शुरू में ही उन्हें बता दें की आप अभी एक प्रेमसंबंध में हैं जिन्हें आप ख़तम नहीं करना चाहते हैं l मदद करने के बहाने आपको भावनात्मक रूप से कमजोर पड़ने की जरुरत नहीं है क्योंकि यह उदारता आपके वर्तमान संबंधों में देर-सबेर कड़ुआहट ला देगी l 

मीन 

                     आपके राशिस्वामी गुरु महाराज नीच का होकर एकादश भाव से शनि और बुध के साथ गोचर कर रहे हैंl शुक्र दशम भाव से सूर्य के साथ गोचर कर रहे हैं l पंचमेश चन्द्रमा सप्ताह के आरंभ में आपके नवम भाव में हैं लेकिन सप्ताहांत तक ये आपके बारहवें भाव में आ जायेंगेl ये सप्ताह आप में से कुछ के लिए बहुत चुनौतीपूर्ण है। पेशेवर कारण से या परिवार की आवश्यकता के लिए आपको दूसरे शहर जाना पड़ सकता है। हालाँकि, आप अपने साथी के संपर्क में रहने के लिए फोन, चैट, ईमेल आदि का उपयोग कर सकते हैं। यह उन चीजों को व्यक्त करने का एक अच्छा माध्यम है, जिन्हें आप मीठे और भावनात्मक शब्दों के माध्यम से महसूस कर सकते हैं। कोशिश करें कि लम्बे समय तक बाहर ना रहना पड़े, अन्यथा लम्बे समय तक डिजिटल माध्यमों पर निर्भर रहना चुनौतीपूर्ण होगा l आपको बहस और विवादित मुद्दे से बचना चाहिए l किसी काल्पनिक परिस्थिति को लेकर भी राय व्यक्त करना या बहसबाजी करना बेतुका ही माना जायेगा l सप्ताहांत में मधुर मिलन रुचिकर होगा l अपने प्रियपात्र के साथ सामने और ईमानदार रहने की आवश्यकता है।

क्या आपको चाहिए अनुभवी एक्सपर्ट की सलाह ?

SUBMIT

 
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support


फ्री टूल्स

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X