myjyotish

9818015458

   whatsapp

8595527218

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Blogs Hindi ›   Weekly Love Horoscope 02 november to 08 november 2020

साप्ताहिक लव राशिफल से जानें अपने प्रेम और विवाह से जुड़ी ख़ास भविष्यवाणी ! -आर के श्रीधर 

R K Shridharआर के श्रीधर Updated 05 Nov 2020 09:14 AM IST
साप्ताहिक लव राशिफल
साप्ताहिक लव राशिफल - फोटो : Myjyotish

 

                        इस सप्ताह ग्रहों की आकाशीय स्थिति प्रेम प्रसंग के लिए बहुत उत्तम नहीं हैl मंगल तो मीन राशि में वक्री चल ही रहे हैंl मंगल हमें अपने कार्यों को सम्पादित करने के लिए साहस और उर्जा देते हैंl वक्री होने से इनके स्वाभाविक लाभ से जातक वंचित रहेंगेl लव और रोमांस के क्षेत्र में शुक्र बहुत ही महत्त्वपूर्ण ग्रह माना जाता है और इसके नीच का होकर गमन करने से स्थितियां चुनौतीपूर्ण बन जाएँगीl अच्छे परिणाम की उम्मीद करना व्यर्थ हैl ज्योतिष शास्त्र में भोग-विलास, भौतिक आनंद, वैवाहिक जीवन, कला, प्रतिभा,कम-वासना, रोमांस आदि का प्रतिनिधित्व शुक्र गृह करते हैंl हमारा प्रेम-प्यार और सुख काफी प्रभावित हो जायेगा, जिसमे आपसी तकरार, परस्पर विश्वास का आभाव, आकर्षण में कमी, बेवफाई, संबंधों में शिथिलता आदि प्रमुख हैं l विवाद बढ़ने पर ब्रेकअप भी हो सकता हैl सूर्य, सौरमण्डल रूपी प्रशासन के राजा हैं और सूर्य को अपने गुणों जैसे महत्वाकांक्षा, अधिकार, सात्विकता, नेतृत्व, यश, निर्णय क्षमता इत्यादि  को वायु तत्व राशि तुला सकारात्मक उपयोग से रोक देती हैl व्यक्ति सही दिशा में आगे नहीं बढ़ पाता हैl हालाँकि बुध भी वक्री हैं लेकिन मंगलवार रात्रि 11:19 बजे मार्गी हो जायेंगेl देखते हैं, सभी बारह राशियों के लिए इस सप्ताह का लव 

मेष 

                        राशिस्वामी मंगल वक्री होकर बारहवें भाव से गोचर कर रहे हैंl पंचमेश सूर्य नीच का होकर सातवें भाव से गोचर कर रहे हैं, वक्री बुध भी साथ हैंl शुक्र भी नीच का होकर छठे भाव से गोचर कर रहे हैंl प्रेम संबंधों के लिए बहुत अनुकूल परिस्थितियां नहीं मिलेंगीl प्रेम में तकरार, अविश्वास से जटिलता बढ़ेगीl किसी तीसरे के चरित्र चित्रण या कार्यशैली को लेकर अपने प्रियपात्र से बहस ना करेंl इसका कोई औचित्य नहीं हैl लेकिन जब आप कुछ कहते हैं तो किसी नुकसान या अपमान से प्रभावित ना हों क्योंकि आपको पता है कि आप सही कह रहे हैंl याद रखिये जब भावनात्मक स्तर पर बंधन मजबूत होगा तभी शारीरिक स्तर पर कुछ किया जा सालता हैl इसलिए पूरी ईमानदारी से प्यार और रोमांस को महत्त्व दें, ताकि आपका पार्टनर आपको सार्थक सहयोग कर सकेl इस सप्ताह सामाजिक सरोकारों से थोड़ा दूर ही रहें, क्योंकि आपकी बातों  को महत्व नहीं भी दिया जा सकता हैl अविवाहितों के लिए भी डगर मुश्किल भरा है फिर भी झूठी शान ना बघारेंl 

वृषभ 

                         आपके राशि स्वामी शुक्र नीच का होकर पांचवें भाव से गमन कर रहे हैंl  राहू आपकी राशि से गोचर कर रहे हैंl सोमवार को चंद्रमा भी आपकी राशी में उच्च का होकर विराजमान हैंl आपका पंचमेश बुध वक्री होकर छठे भाव में नीच के सूर्य के साथ हैंl अति आत्मविश्वास आपकी मुश्किलें बढ़ाएगा ये सप्ताहl आपदोनों के बीच रोमांस और रस का आभाव रहेगाl यदि आपका सम्बन्ध अपने किसी विपरीतलिंगी मित्र से मधुर नहीं तो उसके बारे में कोई चर्चा-परिचर्चा किसी से ना करेंl सम्बन्ध तनावपूर्ण बनाने के लिए आप जिम्मेदार हो सकते हैंl ईमानदारी से सहज मित्र धर्म को निभाएं और बाकी काम ग्रहों पर छोड़ देंl कार्यस्थल पर व्यस्तता को बहाने बनाने का मुद्दा ना बनायेंl सप्ताह के आरंभिक दो दिन आपके लिए सहज रहेंगे और प्रिय पात्र के साथ ठीक-ठाक गुजरेंगेl जब तक शुक्र नीच में है, प्रेम-प्यार के सम्बन्ध में कोई बड़ा फैसला लेने से बचेंl पेशेवर संबंधों का निर्वहन ठीक से कर पायेगेl अपने प्रेम डगर के साथी  से किसी भी सुलह या समझौते कराने के लिए जान-पहचान के मित्रों का सहारा ना लेंl 

मिथुन 

                      आपका राशि स्वामी बुध वक्री होकर पांचवें भाव से नीच के सूर्य के साथ गोचर कर रहे है और पंचमेश शुक्र आपके चतुर्थ भाव में नीचस्थ हैंl सोमवार को चन्द्रमा आपके बारहवें भाव में हैl सप्ताह के शुरुआत में ही प्रेम संबंधों में बहुत ही अप्रिय स्थितियां बन सकती हैंl नजरिया बदलिए और नज़ारे बदलने की उम्मीद कीजियेl यदि किसी भी कारण से आपके दिल को ठेस पहुंची है तो उसे चुपचाप सहन करना सीखिए क्योंकि इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा और आपको कोई महत्त्व नहीं मिलेगा, जिसके आप हक़दार भी हो सकते हैंl अपने सामाजिक रिश्तों और दोस्ती यारी को  बखूबी निभाने का यत्न करें l हम एक सामाजिक प्राणी हैं संगठित जीवनशैली तथा समरसता हमारे जीने का आधार है, इसे स्मरण रखेंl अतीत की बातों को गंभीरता से ना लेना भी आपके लिए मुसीबत के नए द्वार खोल सकता हैl अपने प्रियपात्र के साथ यदि आपने छल किया होगा तो वो अभी उजागर हो जायेगाl गलती स्वीकार करते हुए नए सिरे से अंतरंग सम्बन्ध स्थापित करने का प्रयास करेंl 

कर्क

                        आपका राशिस्वामी चंद्रमा इस सप्ताह आपके ग्यारहवें भाव से उच्च का होकर गोचर करते हुए सप्ताहांत तक आपकी राशि में आ जायेंगे l पंचम भाव में केतु उपस्थित हैं और पंचमेश मंगल वक्री होकर आपके नवम स्थान से गोचर कर रहे हैंl किसी बाहरी हस्तक्षेप से आपका प्रेम सम्बन्ध कटु हो रहा है l सुनी-सुनाई बातों पर आप भी सहज विश्वास कर रहे हैं और आपका प्रेमसाथी भीl वादा करके मुकरना आपकी नई आदतों में शुमार हो गया है, इससे तत्काल बचेंl हालाँकि ये प्रेमप्रसंग के मामले में मिश्रित सप्ताह ही रहेगाl यदि आप अकेले हैं तो अपनी योग्यता और आत्मविश्वास से किसी नए खूबसूरत व्यक्ति के साथ रिश्ते बनाने की पहल कर सकते हैंl इसका तत्काल लाभ आपको मिलेगाl अभी तो रिश्ते को गहरा बनाइये, सोच-विचार बाद में कर लीजियेगाl नए दोस्त भी बनाने के लिए प्रयास कीजिये, बाद में लाभ होगाl निराशा से बचें, सकारात्मक सोचें और खुद को स्वयं ही उत्साहित करेंl किसी अच्छे रेस्टोरेंट, मॉल या पार्क में जाएँ और आनंद लेने का प्रयास करेंl जो अकेले हैं, वे प्यार में अवसर का लाभ उठा सकते हैंl 

सिंह 

                       शुक्र नीच का होकर दुसरे भाव से गोचर कर रहे हैंl आपका राशिस्वामी सूर्य नीच का होकर तीसरे भाव में वक्री बुध के साथ उपस्थित हैl पंचमेश गुरु पंचम भाव में हैंl आप अपने रोमांटिक रिश्ते को लेकर गंभीर तो हैं लेकिन एकतरफा सोचते हैं l सच पूछिए तो, इससे पहले कि ब्रेकअप की स्थिति बने, इसपर सोच-विचार कीजिये और ग़लतफ़हमी दूर कीजियेl आप अपने साथी को जितना प्यार करेंगे रिश्ते उतने गहरे होते जायेंगेl यदि कार्यवश समयाभाव हो तो संवाद-संचार हमेशा बनाये रखिये क्योंकि आपके कर्मक्षेत्र में थोड़ी अस्थिरता रह सकती हैl आप पर झूठे आरोप भी लग सकते हैं और कुछ सहकर्मी साजिश भी कर सकते हैंl उच्चाधिकारियों की नाराजगी भी झेलनी पड़ सकती हैl  शादीशुदा लोगों का समय शांतिपूर्ण बीतेगाl यदि बच्चे बड़े हैं तो उनकी उपलब्धियों से घर में प्रसन्नता का वातावरण बन सकता हैl रोमांटिक ही नहीं बल्कि सभी रिश्तों को भावनात्मक रूप से डील करें, लाभ-हानि के आधार पर नहींl आपका प्रभावशाली व्यक्तित्व आपको सभी रिश्तों में चर्चा में तो रखेगा लेकिन इनलोगों का दिल आप अपने व्यवहार से ही जीत सकते हैं, चाहे वे करीबी पारिवारिक रिश्ते ही क्यों ना होंl 

कन्या 

                        नीच का शुक्र आपकी राशि से गोचर कर रहे हैंl राशिस्वामी बुध वक्री होकर दुसरे भाव में नीच के सूर्य के साथ  हैंl पंचमेश शनि पंचम भाव में ही मौजूद हैंl अपने संयम और चतुराई से आप संबंधों में सुधार की सम्भावना तलाश सकते हैंl भावना में बहकर कोई आश्वासन यदि आप किसी को देते हैं तो सावधान रहिये उसे आपको ही पूरा करना होगाl वैसे इस सप्ताह आपको अपने प्रेमी और अभिन्न मित्रों के साथ मूल्यवान समय बिताने का अवसर मिलेगाl अपने मित्रों को सुनें और उनकी सलाह पर अमल भी करेंl इससे आपको लाभ हो सकता हैl वाणी पर संयम अतिआवश्यक हैl आपकी बातों को गलत अर्थ में लिया जा सकता हैl अपने प्रेमी/प्रेमिका को लेकर धन खर्च करने के मामले में सतर्कता अवश्य बरतें क्योंकि कुछ घरेलू खर्चे भी आपको करने पड़ सकते हैंl आप अपनी उदासी और चिंता के कारणों को अपने प्रियपात्र से सीधे-सीधे कह सकते हैंl समाधान नहीं भी होगा तो भी आपका मन हल्का हो जायेगा और सकारात्मक सोच विक्सित होगीl वैवाहिक जीवन में भी उतार-चढाव रहेगाl 

तुला     

                     वक्री बुध तथा नीच का सूर्य आपकी राशि में विराजमान हैंl आपका राशिस्वामी शुक्र नीच का होकर आपके द्वादश भाव से गोचर कर रहे हैंl पंचमेश शनि चतुर्थ भाव से गोचर कर रहे हैं और आपकी राशि को दशम दृष्टि से देख रहे हैंl इस सप्ताह आपको अपने प्रेम संबंध में स्थितियों को बढ़िया से मूल्याङ्कन करके ही किसी फैसले पर पहुंचना चाहिए तभी बात बनेगी और संतोष का अनुभव कर सकेंगे। इस सप्ताह इस मामले में विपरीत हवा चल रही है एवं परेशानी उत्पन्न हो सकती है। अच्छा रहेगा सतर्कता बरतें।व्यर्थ की चिंता-फ़िक्र करने के बजाय उन क्रिया-कलापों पर ध्यान दें जो आपके जीवन को एक मकसद की  भावना प्रदान करें। कला एवं आध्यात्मिक कार्य इस हफ्ते आपको संतुष्ट रखेंगे और आपके लिए प्रेरणा का स्रोत होंगे। अपने प्रियपात्र से अपने विचारों और चिंताओं को बांटने से पीछे न हटें, क्योंकि आपके प्रेमी/प्रेमिका से समर्थन मिलने से आपका हौसला बढेगा। साथ ही, अपने पारिवारिक जिम्मेदारियों और चिंताओं को नजरअंदाज ना करेंl जो लोग अकेले हैं, उन्हें पुरुषार्थ से प्रेम-प्यार की प्राप्ति होगी लेकिन पहली मुलाकात में उत्साह को नियंत्रण में रखना होगाl 

वृश्चिक 

                     नीच का शुक्र आपके एकादश भाव से गोचर कर रहे हैंl आपके राशि स्वामी मंगल वक्री होकर पांचवें स्थान से गोचर कर रहे हैंl केतु आपकी राशि में तथा पंचमेश गुरु आपके द्वितीय भाव में मौजूद हैंl इस सप्ताह कई कामों को एकसाथ लेकर आपको चलना होगाl इससे पहले कि कार्यों का दबाव आपके विचारों और रुचियों को अस्थिर करे, आवश्यक कार्यों को जल्दी से जल्दी  पूरा कर लें क्योंकि केतु के कारण बहुत से कार्य अधूरे रह जायेंगे। यह समय स्थिर और संकल्पित रहने और आपके पास क्या है व आप क्या चाहते हैं, इसमें विश्वास करने का है। अपने और अपने प्रेमी/प्रेमिका  के लिए समय निकालें व अपने आने वाले समय के बारे में सोचें। शीघ्रता में लिए गए निर्णय का परिणाम खतरनाक हो सकता है। उन सभी व्यक्तियों पर ध्यान दें जो आपको भावनात्मक रूप से समर्थन देते हैं और आपके परिवार या आपके प्रियपात्र के परिवार की प्रसन्नता को बढ़ाने में सहायता करते हैं। आपके जीवन के आलोचक जो आपका अच्छा नहीं चाहते हैं, उन्हें नज़रअंदाज़ करना उत्तम रहेगा।

धनु 

                     राशिस्वामी गुरु महाराज आपकी राशि में  विराजमान हैंl नीच का शुक्र दशम भाव से गोचर कर रहे हैं। पंचमेश मंगल वक्री होकर आपके चौथे भाव से ही गोचर कर रहे हैंl इस समय रोमांटिक रिश्तों और उससे सम्बन्धित विषयों को आप महत्व नहीं दे पा रहे हैं हालाँकि इसका अहसास आपको खूब है लेकिन अभी तो दिल ही दिल में बातें दबती जा रही हैंl हालाँकि कार्य-व्यस्तता के बीच भी आप रोमांस के लिए समय निकाल लेंगे और इस सम्बन्धी सकारात्मक गतिविधियों की सम्भावना हैl स्वयं को और दूसरों के प्रति अपने आचरण को समझ कर आप अपने किसी खास के दिल में जगह बनाने की कला में माहिर हैं। आप अपने रिश्तों को लेकर अधिक भावुक हैं। यह समय मिलने-जुलने और अपने विचारों को शेयर करने का है। आप अपने प्रियतम की प्रतीक्षा करने के बजाय उसके पास जाना पसंद करेंगे। किसी भी स्थिति में अपने प्रेमी/प्रेमिका पर हावी होने का प्रयास ना करें, अधिक पजेसिव होने पर आपकी ही पीड़ा बढ़ेगी और तकरार भी होगाl इस सप्ताह अपने जानकर मित्रों के ग्रुप से बाहर निकलें और नए व दिलचस्प व्यक्तियों से बातचीत करें, आनंद आएगा।

मकर 

                     आपके राशि स्वामी शनि महाराज आपकी राशि से ही गोचर कर रहे हैंl  पंचमेश शुक्र नीच का होकर आपके नवमें स्थान से गोचर में हैंl राहू आपके पांचवें भाव में विराजमान हैं।यह सप्ताह रोमांस से भरी गतिविधियों के लिए उत्तम नहीं है।अभी आपको समय निकाल कर अपने व्यक्तिगत मामलों और विशिष्ट समस्याओं पर ध्यान देना चाहिए जिन पर ध्यान देना बहुत आवश्यक है। अपने समय का विवेकपूर्ण उपयोग करें और अतीत की उन परिस्थितियों के बारे में न सोचें, जो आपको परेशानी में डाल देती हैं। अपने सकारात्मक पक्ष और अपनी सीमाओं से अवगत रहें और अपने आप को श्रेष्ठ बनाने के लिए इन अवसरों का उपयोग करें। हालाँकि प्रेम-प्रसंग के लिए आपकी संवेदनशीलता बनी रहेगीl अपने घर-परिवार से मिला समर्थन आपको नए कार्य करने के लिए प्रेरित कर सकता है और सफलता प्राप्ति के लिए रचनात्मक विचार प्रदान कर सकता है। यदि वर्तमान रिश्ता समाप्त होगा तो दुसरे की शुरुआत शीघ्र हो सकती हैl किसी परिचित से भी आपका रोमांस शुरू हो सकता है, जिन्हें अबतक आपने इस नजर से देखा नहीं थाl 

कुम्भ 

                       पंचमेश बुध वक्री होकर नीच के सूर्य के साथ आपके भाग्यभाव में चल रहे हैंl आपके राशिस्वामी शनि आपके बारहवें भाव से गुजर रहे हैंl नीच का शुक्र अष्टम भाव से गोचर कर रहे हैंl प्रेम-प्रसंग में जिस सकारात्मक बदलाव की आप उम्मीद कर रहे हैं, उसमे अभी थोडा और समय लगेगा l दिल के मामले तो समस्याग्रस्त ही रहेंगे l कुछ पारिवारिक समस्याएं और कार्य-व्यस्तता के कारण रोमांटिक पहल अभी दरकिनार ही हो जायेगाl घर के लिए समर्पित रहें और वो सब करें जो आप कर सकते हैं, क्योंकि वाही आपकी असली पहचान है। अपने प्रियजनों को अपना समय और अपनी योग्यता प्रदान करें और अंत में परिवार से वही मिलेगा जो आपने दिया है। लेकिन संवाद-संचार के विभिन्न माध्यमों के सहारे अपने प्रियतम से सदा संपर्क में रहने का प्रयास किया जा सकता हैl बार-बार अपने ही हितों की बात करते रहने संबंधों में स्वार्थ आ जाता है जो प्रेम के भावुक पक्ष को कमजोर करेगाl एक सम्बन्ध जारी रखकर किसी और अच्छे विकल्प की तलाश करना भी धोखा देना ही हैl अभी जो गोचर है, इसमें आपको निराशा ही हाथ लगने वाली हैl वर्तमान प्रियतम से ही दिल की बात करें और सामंजस्य बनाने का प्रयास करेंl 

मीन 

                         मंगल वक्री होकर आपकी राशि से गोचर कर रहे हैंl आपके राशिस्वामी गुरु महाराज दशम भाव से गोचर कर रहे हैंl नीचस्थ शुक्र सातवें भाव से गोचर कर रहे हैं l पंचमेश चन्द्रमा सप्ताह के आरंभ में उच्चस्थ होकर आपके तीसरे भाव में हैं लेकिन सप्ताहांत तक ये आपके पंचम भाव में आ जायेंगेl सप्ताह की शुरुआत रोमांस से भरपूर रहेगा और आपसी प्रेम शानदार रहेगा l आपका रोमांटिक अंदाज और बौद्धिक स्तर आपके प्रेमजीवन में चार चाँद लगा रही हैl लेकिन बहसबाजी की भी सम्भावना बन रही है लेकिन वो किसी ज्ञान के विषय पर होगीl बहुत संभव है आसपास किसी मंदिर या अन्य पवित्र जगह की छोटी यात्रा भी बन सकती हैl करियर की व्यस्तता और उपलब्धि आपको रोमांस के लिए पर्याप्त समय नहीं देगीl किसी भी स्थिति में दूसरों के सामने कभी भी अनौपचारिक रूप से ना पेश आयें, यदि वो आपके कार्यक्षेत्र से जुड़ा व्यक्ति है l अपना मूड हमेशा सकारात्मक रखें और घर-परिवार के लोगों को यथायोग्य सलाह-मशविरा देते रहेंl अनावश्यक वार्तालाप से परहेज करें ताकि कोई आपको गलत ना समझ सकेl

 
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X