myjyotish

7678508643

   whatsapp

8595527218

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Blogs Hindi ›   Wearing Chandi ka challa silver ring good fortune facts

चांदी के छल्ले को पहनने के चमक उठता है सोया हुआ भाग्य, जानिए ये खास बातें

my jyotish expert Updated 19 Oct 2021 11:55 AM IST
Chandi ka challa
Chandi ka challa - फोटो : google

कुछ लोगों को कई बार काफी मेहनत करने के बाद भी कोई भी शुभ फल नहीं मिलता व जीवन में हर तरफ निराशा छा जाती है। ऐसे में यह माना जाता है कि भाग्य साथ नहीं दे रहा । कई लोग बहुत मेहनत के बावजूद उस मुकाम तक नहीं पहुंच पाते हैं, जिसके वो हकदार हैं। इसकी वजह उनके परिश्रम में कमी नहीं बल्कि उनकी किस्मत में मौजूद दोष का होना हो सकता है। अपनी इसी रूठी हुई किस्मत को मनाने के लिए चांदी और प्लेटिनम का छल्ला बहुत कारगर साबिति होता है। तो किस दिन और कैसे करें धारण आइए जानते हैं। यदि आपको भी ऐसा लगने लगा है तो आप लाल किताब के अनुसार चांदी का छल्ला हाथ में पहनें । परंतु कब और किस अंगुली में यह जानना जरूरी है ।
चांदी का बिना जोड़ वाला छल्ला बहुत काम की चीज है. इसकी कीमत भी बहुत ज्यादा नहीं होती है, यह उंगली की साइज के हिसाब से करीब 1 हजार रुपये में मिल जाता है. यह छल्ला चंद्रमा का कारक होता है. यानी कि यह शुक्र ग्रह को मजबूत करता है और शुक्र अपने मित्र ग्रह बुध पर भी सकारात्मक असर डालता है ।

विवाह का योग भी बनाता है चांदी का छल्ला 

चांदी का छल्ला लड़कियों को अपने बाएं हाथ में और लड़कों को दाएं हाथ में पहनना चाहिए. यदि शुक्र के कारण विवाह में अड़चनें आ रही हों तो चांदी का छल्ला पहनने से जल्द ही विवाह होने के योग बनते हैं. वहीं विवाहित लोगों के चांदी के छल्ला पहनने से उनके दांपत्य जीवन में खुशहाली रहती है. इसके अलावा चांदी का छल्ला पहनने से राहु का दोष दूर होता और मन शांत रहता है. जिन लोगों को बात-बात पर गुस्सा आता हो, उन्हें भी यह छल्ला पहनने से लाभ होगा. 
1. चांदी का छल्ला अंगूठे ही में पहनते हैं। यह बगैर जोड़ का छल्ला होता है।

 2. चांदी का छल्ला लड़कियों को अपने बाएं हाथ में जबकि लड़कों को अपने दाएं हाथ में पहनना चाहिए। 

 3. चांदी का छल्ला चंद्र का कारक भी होता है। साथ ही चंद्र से शुक्र ठीक होता है और शुक्र के ठीक होने से बुध ग्रह भी ठीक हो जाता है।

 4.यदि आपकी कुंडली में चंद्र, शुक्र, शनि, सूर्य, राहु और बुध का दोष है तो फिर तो आपको चांदी का छल्ला किसी ज्योतिष से पूछकर ही पहना चाहिए।

5. चांदी का छल्ला सूर्य और शनि की स्थिति को भी मजबूत करता है और भाग्य को भी जागृत करता है।

6.   इससे राहु का दोष भी दूर होता और साथ ही मन शांत रहता है और मस्तिष्क भी ठंडा रहता है।

7. हाथ का अंगूठा शुक्र का कारण है जबकि चांदी चंद्र की कारक है। यदि आपके हाथों की रेखाओं में शुक्र की रेखा ठीक नहीं है तो आप चांदी का छल्ला पहन सकते हैं।

8. शुक्र ग्रह के मजबूत होने से जीवन में सभी तरह की सुख और सुविधाएं प्राप्त होती हैं और जातक का समाज में भी प्रभाव बढ़ता है।

9. चांदी का छल्ला पहनने से बुध ग्रह भी ठीक हो जाता है क्योंकि यह शुक्र का मित्र ग्रह है। बुध के दोष समाप्त होने से करियर, नौकरी और व्यापार में सफलता मिलती है।

10. शुक्र के ठीक होने से यदि विवाह नहीं हुआ है तो विवाह होने के योग बनते हैं और दांपत्य जीवन सुखपूर्वक गुजरता है।

चांदी का छल्ला पहनने का मुहूर्त:-
चांदी का छल्ला सोमवार को मुहूर्त देखकर पहनना चाहिए। कई बार पैरों के दोनों अंगूठों में चांदी का छल्ला पहने की सलाह भी दी जाती है परंतु यह कुंडली की स्थिति देखकर ही पहना जाता है।



विवाह को लेकर हो रही है चिंता ? जानें आपकी लव मैरिज होगी या अरेंज, बस एक फ़ोन कॉल पर - अभी बात करें FREE

कब और कैसे मिलेगा आपको अपना जीवन साथी ? जानें हमारे एक्सपर्ट्स से बिल्कुल मुफ्त


क्यों हो रही हैं आपकी शादी में देरी ? जानें हमारे एक्सपर्ट एस्ट्रोलॉजर्स से बिल्कुल मुफ्त



 
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support


फ्री टूल्स

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X