myjyotish

7678508643

   whatsapp

8595527218

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Blogs Hindi ›   Know how to bring happiness and prosperity in the house from the right direction of the mirror

जानिए, घर में दर्पण की सही दिशा से कैसे लाए सुख-समृद्धि

myjyotish expert Updated 16 Jun 2021 10:13 AM IST
जानिए, घर में दर्पण की सही दिशा से कैसे लाए सुख-समृद्धि
जानिए, घर में दर्पण की सही दिशा से कैसे लाए सुख-समृद्धि - फोटो : google
घर छोटा हो या बड़ा दर्पण हर किसी के घर में होता हो। हमेशा आइना ऐसी जगह लगाया जाता है जहां हम खुद को आसानी से देख सके। दर्पण सिर्फ सजने-सवरने के लिए ही नहीं बल्कि यह वास्तुशास्त्र में भी काफी अहमियत रखता है।

क्या आपको चाहिए अनुभवी एक्सपर्ट की सलाह ?

SUBMIT

  दर्पण वास्तुशास्त्र में काफी अहमियत रखता है। घर में दर्पण के सही दिशा होने से घर में सुख-समृद्धि दोगुणा हो जाती है। दर्पण के द्वारा आप आस-पास फैली नकारात्मक उर्जा को दूर कर सकते है। न सिर्फ भारतीय वास्तु शास्त्र में , बल्कि चाइनीज वास्तु शास्त्र में भी दर्पण को लाभकारी माना गया है। लेकिन इसके लाभ के लिए इसका सही इस्तेमाल बहुत जरूरी है , क्योंकि गलत इस्तेमाल से नुकसान होते भी देर नहीं लगती।
दर्पण की सही दिशा क्या होनी चाहिए-
वास्तु शास्त्र के मुताबिक ब्रह्मांड की पॉजीटिव एनर्जी हमेशा पूर्व से पश्चिम की तरफ और उत्तर से दक्षिण की तरफ चलती है। दर्पण को पूर्व या उत्तर की दीवार पर इस तरह लगाना चाहिए कि देखने वाले का चेहरा पूर्व या उत्तर की ओर रहे। अगर आपके घर या दफ्तर का मुंह दक्षिण-पश्चिम की ओर है , तो एक अष्टकोणीय दर्पण चौखट या दीवार पर बाहर की ओर लगा देने से उस दिशा से आने वाली नेगेटिव एनर्जी को रोका जा सकता है। व्यापारी या दुकानदार अपने कैश-बॉक्स की भीतरी दीवारों पर भी शीशों का इस्तेमाल करें , तो लक्ष्मी का आगमन होता है और बिजनेस में भी फायदा होता है।
 
दर्पण का आकार कैसा होना चाहिए-
ध्यान रखें घर में नुकीले और तेजधार वाले दर्पण नहीं लगाए ये काफी हानिकारक होते है। दर्पण जितना बड़ा और हल्का हो , वास्तु के हिसाब से उतना ही अच्छा माना जाता है। छोटे-छोटे शीशों को मिलाकर बड़े शिशे की तरह इस्तेमाल ना करें क्योंकि यह वास्तुशास्त्र में खड़ित माने जाते है और खड़ित शीशो को घर में रखना बेहद अशुभ माना जाता है।
दर्पण में फ्रेम का रंग कैसा होना चाहिए-
दर्पन का फ्रेम काफी अहम माना जाता है।  फ्रेम का रंग कभी भी गर्म , तीखा, भड़कीला, सुर्ख लाल , गहरे नारंगी या गुलाबी रंग नहीं होना चाहिए। इसकी बजाए अगर फ्रेम नीला , हरा , सफेद , क्रीम या ऑफ व्हाइट हो तो बेहद शुभ रहता है। अगर फ्रेम कहीं से टूटी-फूटी नहीं होनी चाहिए।
 
घर में किस दिशा में दर्पण का प्रयोग न करें-
दर्पण को कभी भी बेड रूम में बिस्तर के ठीक सामने लगाना अशुभ माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि इससे पति-पत्नी को कई स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां झेलनी पड़ती है। घर की तिजोरी या अलमारी के सामने रखा हुआ दर्पण घर में आर्थिक स्थिति को मजबूत करता है। दर्पण अगर ड्रेसिंग-टेबल में रखा हो तो इस बात का ध्यान रखें कि उसमें बेड दिखाई ना दें। हो सके तो दर्पण को हमेशा ढ़क के रखें।
 
 आज का राशिफल 16-जून-2021: इन तीन राशियों के लिए आज का दिन रहेगा
जाने क्या है अंगारक योग और इसका प्रभाव, राशिनुसार कैसे करें उपाय
 देवगुरू 20 जून से 14 सितंबर तक कुंभ राशि में विराजमान रहेंगे, जानें किन राशियों पर
 
 
 
 
 
 
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support


फ्री टूल्स

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X