myjyotish

6386786122

   whatsapp

6386786122

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

विज्ञापन
विज्ञापन
Home ›   Blogs Hindi ›   Harishayani Ekadashi 2024: Devshayani Ekadashi will be celebrated on July 17

Harishayani Ekadashi 2024: 17 जुलाई को मनाई जाएगी हरिशयनी एकादशी, जानें श्री विष्णु के शयन का समय

Acharya RajRani Updated 10 Jul 2024 10:04 AM IST
हरिशयनी
हरिशयनी - फोटो : myjyotish

खास बातें

devshayani ekadashi kab hai आषाढ़ माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी के दिन श्री विष्णु भगवान के शयन समय को देवशयनी एकादशी के रुप में मनाया जाता है। इस दिन से रुक जाते हैं चार महिनों के लिए मांगलिक कार्य। 
विज्ञापन
विज्ञापन
devshayani ekadashi kab hai आषाढ़ माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी के दिन श्री विष्णु भगवान के शयन समय को देवशयनी एकादशी के रुप में मनाया जाता है। इस दिन से रुक जाते हैं चार महिनों के लिए मांगलिक कार्य। 

Devshayani Ekadashi 2024 muhurat : देवशयनी एकादशी के दिन श्री विष्णु भगवान योग निद्रा में चले जाते हैं। इस समय पर चातुर्मास का आरंभ हो जाता है ओर इसी के साथ रुक जाते हैं सभी विवाह इत्यादि मांगलिक कार्य। 
 

देवशयनी एकादशी 2024 किस दिन है? On which day is Devshayani Ekadashi 2024?

वैदिक पंचांग के अनुसार, देवशयनी एकादशी का समय आषाढ़ माह में होता है, इस माह में आषाढ़ शुक्ल एकादशी तिथि पर इस दिन को मनाया जाता है। इस वर्ष 16 जुलाई को एकादशी तिथि आरंभ होगी रात्रि 08:33 बजे से और यह तिथि 17 जुलाई, बुधवार को रात्रि 09:02 बजे समाप्त होगी, ऐसे में उदयातिथि के आधार पर इस साल देवशयनी एकादशी 17 जुलाई के दिन मनाई जाएगी। 
 

देवशयनी एकादशी 2024 मुहूर्त   Devshayani Ekadashi 2024 Muhurat

देवशयनी एकादशी के दिन हरिशयन का समय 17 जुलाई का होगा और पूजा के लिए शुभ समय सुबह 05:34 बजे से आरंभ होगा, इस समय के पश्चात संपूर्ण दिवस पूजा का होगा। 17 जुलाई को श्री हरि शयन में चले जाएंगे। देवशयनी एकादशी का व्रत भी इसी दिन रखा जाएगा। 

देवशयनी एकादशी 2024 पारण समय Devshayani Ekadashi 2024 Parana Time
देवशयनी एकादशी व्रत के अगले दिन पारण किया जाता है। ऎसे में देवशयनी एकादशी के लिए पारण का समय 18 जुलाई 2024 का होगा। इस दिन 18 जुलाई को सुबह 05:35 बजे से 08:20 बजे के बीच का समय पारण के लिए उपयुक्त होगा। 

गुप्त नवरात्रि में कराएँ दुर्गा सप्तशती का अमूल्य पाठ, घर बैठे पूजन से मिलेगा सर्वस्व - 06 से 15 जुलाई 2024
 

देवशयनी एकादशी श्री विष्णु शयन पूजा समय Devshayani Ekadashi Shri Vishnu Shayan Puja Time

देवशयनी एकादशी आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि को मनाई जाती है। इस दिन लोग व्रत रखते हैं और भगवान विष्णु की पूजा करते हैं। देवशयनी एकादशी के दिन से चातुर्मास शुरू हो जाता है। इन चार माह के लिए योग निद्रा में श्री हरि ध्यान में मग्न रहते हैं।

इसी कारण इस समय कार्यों को रोक कर एक साथ पर रहते हुए साधना की जाती है। चातुर्मास में कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता है इस दौरान मुंडन, विवाह, सगाई, गृह प्रवेश आदि शुभ कार्य पूरी तरह वर्जित होते हैं। यह वह समय एकादशी है जिस दिन देवता सो जाते हैं।  
 

देवशयनी एकादशी से चातुर्मास आरंभ Chaturmas starts from Devshayani Ekadashi

देवशयनी एकादशी के दिन से चातुर्मास शुरू होता है। चातुर्मास शुरू होते ही भगवान श्री हरि विष्णु योग निद्रा में चले जाते हैं। वे सृष्टि चलाने का कार्यभार भगवान शिव को सौंप देते हैं। ऐसा माना जाता है कि इस दिन से देवता भी शयन पर चले जाते हैं।

चातुर्मास आषाढ़ मास की शुक्ल एकादशी से शुरू होकर ज्येष्ठ मास की एकादशी तक चलता है। कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष को। कार्तिक शुक्ल एकादशी को चातुर्मास समाप्त होता है। उस दिन देवउठनी एकादशी होती है। चातुर्मास में आषाढ़, सावन, भाद्रपद, आश्विन और कार्तिक महीने शामिल हैं, लेकिन तिथियों से गणना करने पर यह 4 महीने का हो जाता है।

यदि आप इससे संबंधित अधिक जानकारी चाहते हैं, तो हमारे ज्योतिषाचार्यों से संपर्क करें।
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support
विज्ञापन
विज्ञापन


फ्री टूल्स

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
X