myjyotish

6386786122

   whatsapp

6386786122

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

विज्ञापन
विज्ञापन
Home ›   Blogs Hindi ›   Guru Ke Upay: Adopt these 5 measures to please Lord Vishnu

Guru Ke Upay: भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के लिए अपनाएं ये 5 उपाय

Nisha Thapaनिशा थापा Updated 12 Jun 2024 06:15 PM IST
भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के 5 उपाय
भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के 5 उपाय - फोटो : My jyotish

खास बातें

Guru Ke Upay: यदि आप भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको अवश्य ही गुरू के ये उपाय अवश्य ही अपनाने चाहिए। तो आइए इस लेख में जानते हैं कि गुरू को प्रसन्न करने के कौन से पांच उपाय हैं। 
विज्ञापन
विज्ञापन
Guru Ke Upay: गुरुवार को बृहस्पति देव का वार माना गया है और इस दिन श्रद्धा भाव के साथ भगवान विष्णु की पूजा करने से जातक को विशेष फलों की प्राप्ति होती है। साथ ही जातक को मनोवांछित फलों की भी प्राप्ति होती है। वहीं यदि अगर कुंडली में गुरु कमजोर है, तो उसे भगवान विष्णु की अवश्य ही पूजा करनी चाहिए। भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के लिए कुछ ऐसे उपाय हैं, जिन्हें करने से आपको जल्दी ही इसका फल प्राप्त होगा। तो आइए जानते हैं कौन से हैं वो उपाय। 
 

1. भगवान विष्णु की पूजा करें


प्रतिदिन भगवान विष्णु की पूजा करें। इसके अलावा आपको गुरूवार के दिन भगवान विष्णु की पूजा करनी चाहिए। पूजा के साथ आप "विष्णु सप्तशती" या "विष्णु सहस्रनाम" का पाठ कर सकते हैं। भगवान विष्णु को तुलसी, कमल, शंखपुष्पी या अन्य सफेद फूलों को अर्पित करें। इसके साथ ही भगवान विष्णु को वैजयंती माला भी अर्पित करें।
 

2. बृहस्पतिवार का व्रत 


भगवान विष्णु से जुड़े कई व्रत हैं, जैसे कि पंचमी व्रत, एकादशी व्रत, पुरुषोत्तम व्रत, वैकुंठ एकादशी व्रत, देवउत्थानी एकादशी आदि। आप अपनी श्रद्धा और क्षमता के अनुसार कोई भी व्रत रख सकते हैं। इसके साथ ही भगवान की विशेष कृपा पाने के लिए बृहस्पतिवार के दिन भी व्रत का पारण कर सकते हैं।
 

3. दान करें


भगवान विष्णु को दान करना बहुत ही पुण्यकारी माना जाता है। आप गरीबों और जरूरतमंदों को भोजन, दान, कपड़े, या अन्य आवश्यक वस्तुएं दान कर सकते हैं। आप मंदिरों में भी दान कर सकते हैं।
 

4. भगवान विष्णु के मंदिरों में दर्शन


भगवान विष्णु के मंदिरों में जाकर उनके दर्शन करें और भगवान विष्णु की प्रतिमाओं का श्रृंगार करें। दीप प्रज्वलित करें और धूप-बत्ती लगाएं। 
 

5. भगवान विष्णु का स्मरण करें


भगवान विष्णु की कृपा पाने के लिए आपको उनकी आरती और भगवान विष्णु के भजनों का गायन या श्रवण करें। इसके साथ ही विष्णु शतनाम स्तोत्र का भी पाठ करने से आपको लाभ प्राप्त हो सकता है।

श्री विष्णु शतनाम स्तोत्र

ॐ वासुदेवं हृषीकेशं वामनं जलशायिनम् ।
जनार्दनं हरि कृष्णं श्रीवक्षं गरुडध्वजम् ।।
वाराहं पुण्डरीकाक्षं नृसिंहं नरकान्तकम् ।
अव्यक्तं शाश्वतं विष्णुमनन्तमजमव्ययम् ।।

नारायणं गदाध्यक्षं गोविन्दं कीर्तिभाजनम् ।
गोवर्धनोद्धरं देवं भूधरं भुवनेश्वरम् ।।
वेत्तारं यज्ञपुरुषं यज्ञेशं यज्ञवाहकम् ।
चक्रपाणिं गदापाणिं शङ्खपाणिं नरोत्तमम् ।।
वैकुण्ठं दुष्टदमनं भूगर्भं पीतवाससम् ।
त्रिविक्रमं त्रिकालज्ञं त्रिमूर्तिं नन्दिकेश्वरम् ।।
रामं रामं हयग्रीवं भीमं रौद्रं भवोद्भवम् ।
श्रीपतिं श्रीधरं श्रीशं मङ्गलं मङ्गलायुधम् ।।

दामोदरं दमोपेतं केशवं केशिसूदनम् ।
वरेण्यं वरदं विष्णुमानन्दं वसुदेवजम् ।।
हिरण्यरेतसं दीप्तं पुराणं पुरुषोत्तमम् ।
सकलं निष्कलं शुद्धं निर्गुणं गुणशाश्वतम् ।।
हिरण्यतनुसङ्काशं सूर्यायुतसमप्रभम् ।
मेघश्यामं चतुर्बाहुं कुशलं कमलेक्षणम् ।।
ज्योतीरूपमरूपं च स्वरूपं रूपसंस्थितम् ।
सर्वज्ञं सर्वरूपस्थं सर्वेशं सर्वतोमुखम् ।।

ज्ञानं कूटस्थमचलं ज्ञानदं परमं प्रभुम् ।
योगीशं योगनिष्णातं योगिनं योगरूपिणम् ।।
ईश्वरं सर्वभूतानां वन्दे भूतमयं प्रभुम् ।
इति नामशतं दिव्यं वैष्णवं खलु पापहम् ।।

यासेन कथितं पूर्वं सर्वपापप्रणाशनम् ।
यः पठेत्प्रातरुत्थाय स भवेद्वैष्णवो नरः ।।
सर्वपापविशुद्धात्मा विष्णुसायुज्यमाप्नुयात् ।
चान्द्रायणसहस्राणि कन्यादानशतानि च ।।

गवां लक्षसहस्राणि मुक्तिभागी भवेन्नरः ।
अश्वमेधायुतं पुण्यं फलं प्राप्नोति मानवः ।।

तो, इस प्रकार से आप इन उपायों को अपनाकर भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त कर सकते हैं, यदि इससे संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो ज्योतिषाचार्यों से संपर्क करें।
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support
विज्ञापन
विज्ञापन


फ्री टूल्स

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
X