myjyotish

6386786122

   whatsapp

6386786122

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

विज्ञापन
विज्ञापन
Home ›   Blogs Hindi ›   Food and Planets: Consume these things to remove planetary defects and get success in life

Food and Planets: ग्रह दोष दूर करने के लिए करें इन खाद्य पदार्थों का सेवन, पाएं जीवन में सफलता

Shaily Prakashशैली प्रकाश Updated 23 Jun 2024 12:45 PM IST
ग्रह और खाद्य पदार्थ
ग्रह और खाद्य पदार्थ - फोटो : My Jyotish

खास बातें

Food and Planets: यदि आप अपने जीवन से ग्रह दोष दूर करना चाहते हैं, तो आपको कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए जिनका संबंध सीधा ग्रहों से है। तो आइए इस लेख में जानते हैं कि कौन से खाद्य पदार्थ का सेवन करने से कौन सा ग्रह शांत होता है।
विज्ञापन
विज्ञापन

Food and Planets: लाल किताब के अनुसार प्रत्येक ग्रह का अपना एक अलग पौधा, अन्न, अनाज, फल, सब्जी, रत्न आदि हैं। यदि आपकी कुंडली में कोई ग्रह नीच में बैठकर अशुभ फल दे रहा है, तो आप उचित तिथि और समय पर निम्नलिखित अन्न खाकर सभी ग्रहों के अच्छे फल प्राप्त कर सकते हैं। यदि आपको किसी भी प्रकार का कोई गंभीर रोग नहीं है तो इन्हें आजमा सकते हैं।
 

नवग्रह दोष दूर करने के लिए करें इनका सेवन


1. सूर्य ग्रह: सूर्य जब बलवान रहता है तो जातक को कोई रोग नहीं होता है और वह सरकारी सेवा, राजनीति, उच्च प्रशासनिक सेवा, फाईनान्सर, बीमा एजेंट, फल विक्रेता, गेहूं और स्वर्ण संबंधी व्यापार आदि में अच्छा प्रदर्शन करता है। सूर्य की अनुकूलता प्राप्त करने के लिए अपने आहार में गेहूं, आम, गुड़ आदि का उपयोग कर सकते हैं। तांबे के लोटे में पानी पी सकते हैं।

2. चन्द्र ग्रह: चंद्र जब बलवान होता है तो जातक जल, चीनी, चावल, मिठाई, दूध, चांदी, जनसंपर्क, लेखन से संबंधित कार्यों में सफल होता है। चन्द्रमा की अनुकूलता के लिए गन्ना, शक्कर, दूध और दूध से बने पदार्थ, आइसक्रीम और मिठाइयों को अपने आहार में उपयोग कर सकते हैं।

3. मंगल ग्रह: मंगल जब बलवान रहता है तो जातक खेल, सेना, पुलिस, राजनीति, अग्नि से संबंधित कार्य, शल्य चिकित्सक, भूमि से संबंधित कार्य, पत्थर, मिट्टी आदि से संबंधित कार्य में सफलता दिलाता है। यदि आपकी कुंडली में मंगल अशुभ हो रहा है तो अपने आहार में गुड़, मसूर की दाल, अनार, जौ और शहद का उपयोग कर सकते हैं।

4. बुध ग्रह: बुध जब बलवान होता है तो यह नौकरी, व्यापार सहित वाणी, गायन-वादन, शिल्पकला, काव्य रचना, पुरोहित, चार्टड एकाउटेंट, मुनीम, शिक्षक, गणित संबंधि कार्य को अच्छा बनाता है। यह हमारे व्यापार और उद्योग को संचालित करता है। यदि यह कुंडली के नीच भाव में बैठकर अशुभ फल दे रहा है तो मटर, ज्वार, हरी दालें, मूंग, हरी सब्जियां आहार में ली जा सकती है।

5. गुरु ग्रह: गुरु यानी बृहस्पति जब बलवान होता है तो यह लंबी आयु, मान-सम्मान, धार्मिक व्यवसाय, बैंकिंग कार्य, ज्योतिष, राजनीति, किताबों से संबंधित कार्य, न्यायाधीश, लकड़ी से संबंधित कार्य आदि से सफलता दिलाता है। यदि बृहस्पति ग्रह आपकी कुंडली में अशुभ फल दे रहा है तो चना, चना दाल, बेसन, मक्का, केला, हल्दी, सेंधा नमक, पीली दालें और फलों को अपने भोजन में शामिल कर सकते हैं।

6. शुक्र ग्रह: शुक्र जब बलवान रहता है तो संगीत, कला, सौंदर्य, फिल्म, वीडियो, आभूषण, मैरिज ब्यूरो, सजावटी वस्तुएं, मिठाई, टूरिज्म, रेस्टोरेंट, विलासितापूर्ण वस्तुएं आदि कार्यों में सफलता दिलाता है। शुक्र ग्रह जब नीच का होकर अशुभ फल देने लगे तो त्रिफला, दालचीनी, कमलगट्टा, मिश्री, मूली और सफेद शलजम का उपयोग किया जा सकता है।

7. शनि ग्रह: शनि जब बलवान होता है तो भूमि, ज्वलनशील पदार्थ, लोहा, मशीनरी के कार्य, ठेकेदारी, प्राचीन वस्तुएं, प्रशासन, राजनीति आदि कार्यों में सफलता दिलाता है। शनि ग्रह का अशुभ फल जातक को भयंकर कष्ट देता है। इसकी अनुकूलता के लिए भोजन में तिल, उड़द, काली मिर्च, मूंगफली का तेल, अचार, लौंग, तेजपत्ता तथा काले नमक का उपयोग कर सकते हैं।

8. राहु और केतु: राहु और केतु यदि बलवान हो तो कमीशन एजेंट, आध्यात्मिक कार्य, रहस्यमयी विज्ञान, कंप्यूटर, अनुसंधान, कीटनाशक, बिजली, मशीनों से संबंधित कार्य, जासूसी गुप्त कार्य, तामसिक पदार्थ आदि कार्यों में सफलता दिलाते हैं। राहु और केतु की पीड़ा से बचने के लिए उड़द, तिल और सरसों का प्रयोग लाभदायक रहता है।

9. ग्रहों के उपचार: रविवार को चना, सोमवार को खीर अथवा दूध, मंगलवार को चूरमा तथा हलवा, बुधवार को हरी सब्जी, गुरुवार को चने की दाल अथवा बेसन का प्रयोग, शुक्रवार को मीठा दही और शनिवार को उड़द का सेवन करने से सभी ग्रह प्रसन्न रहते हैं।

तो इस प्रकार से आप इन उपायों को अपना सकते हैं, हालांकि इन उपायों को अपनाने से पूर्व आपको किसी ज्योतिष विशेषज्ञ की सलाह अवश्य ही लेनी चाहिए, क्योंकि वह आपकी कुंडली में ग्रहों की स्थिति के आधार पर ही आपको उपाय बता सकते हैं। इसके लिए आप हमारे ज्योतिषाचार्यों से संपर्क कर सकते हैं। 

  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support
विज्ञापन
विज्ञापन


फ्री टूल्स

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
X