myjyotish

6386786122

   whatsapp

6386786122

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

विज्ञापन
विज्ञापन
Home ›   Blogs Hindi ›   fast on Guruwar will bring prosperity in the house and know other benefits

Guruwar Vrat Benefits: गुरुवार का व्रत रखने से घर में आएगी समृद्धि और जानें अन्य लाभ

Nisha Thapaनिशा थापा Updated 13 Jun 2024 01:19 PM IST
गुरुवार व्रत के लाभ
गुरुवार व्रत के लाभ - फोटो : My Jyotish

खास बातें

Guruwar Vrat Benefits: गुरुवार के व्रत का पारण करने से जातक कई प्रकार का लाभ प्राप्त होता है।  जिससे उसके घर में समृद्धि का संचार होता है। इसके अलावा भी कई अन्य लाभ है, जो कि इस लेख में बताए गए हैं। 
विज्ञापन
विज्ञापन

Guruwar Vrat Benefits: गुरुवार का दिन भगवान विष्णु का दिन है। इस दिन व्रत का पारण करने से जातक के ऊपर भगवान विष्णु की असीम कृपा बसरती है, लेकिन इसका लाभ आपको तभी मिल सकता है, जब आप नियमपूर्वक व्रत का पारण करें। व्रत का पारण करने से भक्त जनों को भगवान विष्णु के साथ-साथ माता लक्ष्मी जी की भी असीम कृपा प्राप्त होती है। इसी क्रम में आज हम इस लेख में जानेंगे की गुरुवार के व्रत के और क्या लाभ हैं।
 

गुरुवार के व्रत के लाभ

 

गुरुवार का व्रत रखने से ना सिर्फ आप धार्मिक दृष्टि से स्वयं को लाभ पहुंचाते हैं, बल्कि शारीरिक दृष्टि से भी आपको लाभ पहुंचता है। क्योंकि यदि आप सप्ताह में एक दिन फलहार रहते हैं या फिर भोजन नहीं करते हैं, तो आपके स्वास्थ्य को लाभ पहुंचता है। तो आइए जानते हैं गुरुवार का व्रत रखने के अन्य लाभ क्या हैं।

  • गुरुवार का व्रत रखने से घर में सुख-शांति का वातावरण बना रहता है। क्योंकि मान्यता के अनुसार कहा जाता है कि, इस दिन व्रत रखने से भगवान विष्णु के साथ-साथ माता लक्ष्मी जी भी प्रसन्न होती हैं और माता लक्ष्मी घर के वातावरण को सदैव सकारात्मक बनाती हैं। इसके साथ ही धन-वैभव में वृद्धि होती है।

  • गुरुवार का व्रत कुंवारी कन्याओं के लिए विशेष रूप से लाभकारी होता है। इस व्रत को रखने से उन्हें मनचाहा जीवनसाथी प्राप्त होता है, साथ ही दांपत्य जीवन भी खुशहाल बीतता है।

  • गुरुवार का व्रत शिक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए भी लाभकारी होता है। जो लोग लंबे सयम से शिक्षा में कुछ अच्छा करने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन इसका फल जल्दी नहीं मिल रहा, तो आपको इस व्रत से लाभ प्राप्त हो सकता है। इसके साथ ही जो लोग नौकरी में कुछ अच्छा करना चाहते हैं, तो उन्हें गुरुवार के व्रत से नौकरी में सफलता प्राप्त होती है।

  • गुरुवार का व्रत रखने से रोगों से मुक्ति मिलती है। यदि आप या फिर आपके घर का कोई सदस्य लंबे समय से बीमार है, तो स्वयं या उनके लिए आपको व्रत अवश्य ही रखना चाहिए। व्रत रखने से रोग दूर होते हैं और मन को शांति मिलती है। 

  • गुरुवार का व्रत रखने से ग्रहों के दोषों का निवारण होता है। जिन लोगों की कुंडली में गुरु ग्रह शुभ फल नहीं दे रहे हैं, तो उनका गुरू मजबूत होता है और कोई दोष है, तो वह भी दूर होता है।
     

गुरुवार के व्रत की विधि


गुरुवार के दिन सूर्योदय से पहले उठकर स्नान करें और स्वच्छ वस्त्र पहनें। भगवान विष्णु और देवी लक्ष्मी की प्रतिमा स्थापित करें। दीप प्रज्वलित करें और धूप-बत्ती लगाएं। भगवान विष्णु और देवी लक्ष्मी की पूजा करें। फल, फूल और मिठाई का भोग लगाएं। गुरुवार का व्रत पूरे दिन रखें। शाम को सूर्यास्त के बाद व्रत खोलें। गुरुवार के दिन दान-पुण्य करें। लेकिन आपको ध्यान देना चाहिए कि इस दिन आपको केवल सात्विक भोजन ग्रहण करना चाहिए या फिर फलाहार ही रहना चाहिए। कुट्टू का आटा, साबूदाना, राजगिरा आदि का सेवन कर सकते हैं, नमक, मिर्च और तेल का सेवन न करें।

यदि आप गुरु से संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, हमारे ज्योतिषाचार्यों से संपर्क करें।

  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support
विज्ञापन
विज्ञापन


फ्री टूल्स

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
X