myjyotish

8595527216

   whatsapp

8595527218

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Blogs Hindi ›   Falgun month special significance mahashivratri

फाल्गुन मास कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि महाशिवरात्रि का पर्व 11 मार्च को परम सिद्ध और सौभाग्य कारी - स्वाति सक्सेना

Swati saxena Updated 08 Mar 2021 04:31 PM IST
Mahashivratri
Mahashivratri - फोटो : Myjyotish

शिवयोग

सर्वार्थ सिद्धि योग और घनिष्ठा नक्षत्र में मनाया जाएगा
11 मार्च को चतुर्दशी तिथि रात्रि में प्राप्त होगी इसलिए योग रात्रि ,शुभ रात्रि, शिव और सत्य पूजन की रात्रि का महापर्व शिवरात्रि 11 को ही मनाया जाएगा ।

क्या आपको चाहिए अनुभवी एक्सपर्ट की सलाह ?

SUBMIT

आज के दिन भगवान की चारों प्रहर पूजन से हम धर्म अर्थ काम मोक्ष को साध सकते हैं। 
वैसे ही इस बार इस पर्व पर शिव योग का और सर्वार्थ सिद्धि योग का होना ज्योतिषी पृष्ठभूमि पर बहुत महत्व रखता है

11 मार्च 9 बजकर 24 मिनट तक शिव योग रहेगा।  उसके बाद सिद्ध योग लग जायेगा। जोकि  12 मार्च सुबह 8 बजकर 29 मिनट तक रहेगा।

असाध्य ग्रह को भी साध सकते हैं । महापर्व के शिव योग में शिवरात्रि पर शिवयोग में आरंभ करें शिव पूजन
सभी लोगो को सर्वप्रथम गंगाजल मिश्रित जल से स्नान कर पीले वस्त्र धारण कर शिवलिंग के समक्ष अपने घर या किसी भी शिवालय मंदिर में बैठकर गंगाजल मिश्रित जल का पात्र रखें घी का दीप प्रज्वलित कर  फिर भगवान पंचामृत से अभिषेक करें और पीला चंदन से लेप कर रोली से शिवलिंग पर 11 बार ॐ लिखे ,पीले पुष्प अर्पित करें और रुद्राष्टकम का पाठ करें। 

शिव योग में ग्रहो के अनिष्ट प्रभावों को खत्म करने के लिए सभी ग्रह नक्षत्रों को अपनी जटा में साधने वाले देवों के देव महादेव का पूजन शिवयोग मैं करने से मंगल शनि राहु व केतु जैसे क्रूर ग्रहो के दुर्योगों से मिल सकती है मुक्ति वर्तमान समय में अंगारक योग गोचर में व्याप्त है जिसके प्रभाव से हर व्यक्ति विशेष को बचने के लिए भगवान शिव के पूजन के साथ निम्न मंत्र का जाप रुद्राक्ष की माला से करना चाहिए। 

मंगल 
के साथ बनने वाले अनिष्ट युगों की शांति के लिए
ॐ अंग अंगारकाय नमः 108 बार करें

शनि 
शनि के अशुभ प्रभाव को खत्म करने के लिए
ॐ  शं शनिश्चराय नमः

 इस महाशिवरात्रि अपार धन ,वैभव एवं संपदा प्राप्ति हेतु ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग में कराएं रूद्राभिषेक : 11 मार्च 2021
 
राहु 
राहु के ग्रह दोष निवारण के लिए
ॐ रां राहवे नमः

केतु
केतु के बीज मंत्र का जापॐ कें केतवे नमः व चंद्रमौलि भगवान के पूजन से कमजोर चंद्रमा की पीड़ा दूर करने के लिए पंचामृत से अभिषेक और ॐ सोम सोमाये नमः का जाप करना चाहिए । 
शिव योग -- ध्यान और समाधी का समन्वय  है। इस समय किया जाप सिद्ध होता है 
वही सर्वार्द्ध सिद्ध योग में पूजन और जाप सिद्ध करता हैं आप के मनोरथ
शिवरात्रि पर ऊर्जाओं का जगरित स्वरूप पृथ्वी पर रहता हैं । पूरे दिन सर्वार्द्ध सिद्ध योग में अपने मनोरथ पूरे करने के उद्देश्य से भोलेनाथ का पूजन इस तरह से करें ।
घर पर या मंदिर पर शिवलिंग पंचामृत से अभिषेक करें ॐ नमः शिवाय का जाप करते हुए
चंदन का लेप करें फिर धुले 21अखंडित बेलपत्रों में चंदन से ॐ लिख कर नमः शिवाय का जाप करते हुये अपनी कामना दोहराते हुए बेलपत्र अर्पित करें ।
रात्रि के चारो प्रहार भगवान का अभिषेक करे इस मंत्र के साथ

प्रथम प्रहर में- 
‘ह्रीं ईशानाय नमः’मंत्र जाप के साथ  दूध से करें अभषेक

दूसरे प्रहर में- 
‘ह्रीं अघोराय नमः’ मंत्र जाप के साथ दही से 

तीसरे प्रहर में-
‘ह्रीं वामदेवाय नमः’मंत्र जाप के साथ धृत से अभिषेक करें ।

चौथे प्रहर में- 
‘ह्रीं सद्योजाताय नमः’मंत्र जाप के साथ शहद से अभिषेक करें ।
निशीथ काल पूजा मुहूर्त :  11 मार्च देर रात 12 बजकर 06 मिनट से 12 बजकर 55 मिनट तक
अवधि-48 मिनट की इस अवधि में  पंचामृत से अभिषेक कर कंडे को प्रज्वलित कर 
11 बार घी 11 टुकड़े कपूर 11 जोड़े लौंग अर्पित करे और हवन सामग्री में तिल अक्षत चीनी मिला कर 11 आहुति दे

धन वैभव प्राप्ति के लिए
ॐ नमोः भगवते रुद्राय नमः

सफलता,विद्या अर्जन
ॐ तत्पुरुषाय विद्महे महादेवाय धीमहि तन्नो

स्वास्थ्य लाभ के लिए
ॐ हौं जूं सः स्व स्वहा

वैवाहिक सुख के लिए
ॐ सोमेश्वराय नमः'

यह भी पढ़ें :- 

बीमारियों से बचाव के लिए भवन वास्तु के कुछ खास उपाय !  

क्यों मनाई जाती हैं कुम्भ संक्रांति ? जानें इससे जुड़ा यह ख़ास तथ्य !

जानिए किस माला के जाप का क्या फल मिलता है
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support


फ्री टूल्स

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X