myjyotish

7678508643

   whatsapp

8595527218

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Blogs Hindi ›   astrology shani remedies solutions

जानिए परेशानियों के समय शनि को प्रसन्न करने के ये उपाय, मिलेगा समाधान

My jyotish expert Updated 15 Sep 2021 11:56 AM IST
shani remedies
shani remedies - फोटो : google
शनिदेव का नाम आते ही मन विचलित हो उठता है मन में तरह-तरह के सवाल उठने लगते हैं कि अपने नक्षत्रों से शनि दोस्त को निकालने के लिए क्या उपाय किए जाएं परंतु शनि देव गलत नहीं है वह तो केवल कर्म फल दाता है आप जिस तरह के कर्म करेंगे आपको उसी तरह के फल मिलेंगे इसीलिए शनिदेव को कर्मफल दाता कहा जाता है असल में शनि देव शनि ग्रह के प्रति अनेक आखयान पुराणों में प्राप्त होते हैं।शनिदेव को सूर्य पुत्र एवं कर्मफल दातामाना जाता है। लेकिन साथ ही पितृ शत्रु भी.शनि ग्रह के सम्बन्ध मे अनेक भ्रान्तियां और इस लिये उसे मारक, अशुभ और दुख कारक माना जाता है। पाश्चात्य ज्योतिषी भी उसे दुख देने वाला मानते हैं। लेकिन शनि उतना अशुभ और मारक नही है, जितना उसे माना जाता है। इसलिये वह शत्रु नही मित्र है।मोक्ष को देने वाला एक मात्र शनि ग्रह ही है। सत्य तो यह ही है कि शनि प्रकृति में संतुलन पैदा करता है, और हर प्राणी के साथ उचित न्याय करता है। जो लोग अनुचित विषमता और अस्वाभाविक समता को आश्रय देते हैं, शनि केवल उन्ही को दण्डिंत (प्रताडित) करते हैं। अनुराधा नक्षत्र के स्वामी शनि हैं।

इस पितृ पक्ष, 15 दिवसीय शक्ति समय में गया में अर्पित करें नित्य तर्पण, पितरों के आशीर्वाद से बदलेगी किस्मत : 20 सितम्बर - 6 अक्टूबर 2021

इसलिए हमें इस बात से चिंता नहीं लेनी चाहिए कि शनिदेव हमारे साथ क्या करेंगे अगर आपने अच्छे कर्म किए हैं तो आपके साथ कभी कुछ बुरा नहीं होगा शनिदेव ऐसा नहीं होने देंगे लेकिन अगर आपको लगता है कि आपने कुछ ऐसा किया है जिससे शनि का प्रकोप आप पर चल रहा है तो आप उसे निपट सकते हैं किए गए उपायों से आप अपनी जिंदगी में वापस खुशहाली से जी सकते हैं इसके लिए आपको कुछ उपाय करने होंगे आइए जानते हैं इन उपायों के बारे में
भगवान शनि को प्रसन्न करने के उपाय
1.शनिवार के दिन शनि यंत्र की स्थापना करें. इसके बाद प्रतिदिन इस यंत्र की विधि-विधान पूर्वक पूजा करने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं. प्रतिदिन यंत्र के सामने सरसों के तेल का दीपक जलाएं.
2. शनिवार वाले दिन पीपल के पेड़ के पास एक दीपक जलाएं ध्यान रहे कि पीपल का पेड़ किसी सुनसान जगह पर होना चाहिए उसके पास आप दीप प्रज्वलित कर रख सकते हैं इससे आपकी धनधान्य की बाधाएं दूर हो जाएंगी.
3. शनिवार को पीपल के वृक्ष के चारों ओर सात बार कच्चा सूत लपेटें. इस दौरान शनि देव के एकाक्षरी मंत्र- ऊँ शं शनैश्चाराय नमःका जाप करें. इसे करने से साढ़ेसाती की सभी परेशानियां दूर हो जाएंगी.
4. शनिदेव को तेल अर्पित करें ध्यान रहे कि तेल इधर-उधर नहीं गिरना चाहिए और तेल चढ़ाने के साथ उनका पूजन करें और नीले पुष्प भी चढ़ाएं ध्यान रहे कि आप शनि की मूर्ति को सामने से ना देखें हो सके जितना ऐसे मंदिर में जाएं जहां शीला हो.
5.  पीपल को जल चढ़ाएं और उसके साथ बात रख परिक्रमा करें भूखे लोगों को खाना खिलाएं इससे शनिदेव प्रसन्न होंगे.
6. शनिवार के दिन शाम के समय बड़ (बरगद) और पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं.
7. सुबह स्नान करके तेल दान करें ध्यान रखें कि ऐसी कटोरी का प्रयोग करें जिसमें आपका चेहरा दिखाई दे रहा हो उसे कटोरी से तेल दान करें ऐसा करने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं. और दरिद्रता दूर होती है.
8..  शनिवार सुबह नहाने के बाद हनुमान चालीसा पढ़ें. हनुमान चालीसा पढ़ने वाले इंसान पर कभी शनि देव की खराब दृष्टि नहीं पड़ती.   
9.  शनिवार के दिन गरीब और जरूरतमंदों को भोजन कराएं, किसी जरूरतमंद को दवा उपलब्ध करवाएं. इससे भी शनिदेव की कृपा प्राप्त होती है.

इस पितृ पक्ष गया में कराएं श्राद्ध पूजा, मिलेगी पितृ दोषों से मुक्ति : 20 सितम्बर - 6 अक्टूबर 2021

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज एक साथ प्रसन्न -6 अक्टूबर 2021

आसानी से देखिए अपनी जन्म कुंडली मुफ़्त में, यहाँ क्लिक करें
 
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support


फ्री टूल्स

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X