All Problems Are Overcome By Worshiping Mercury - बुध ग्रह की उपासना से दूर होती हैं समस्त परेशानियां - Myjyotish News Live
myjyotish
हेल्पलाइन नंबर

9818015458

  • login

    Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Blogs Hindi ›   All problems are overcome by worshiping Mercury

बुध ग्रह की उपासना से दूर होती हैं समस्त परेशानियां

MyJyotish Expert Updated 07 May 2020 08:27 PM IST
All problems are overcome by worshiping Mercury
बुध ग्रह सौरमंडल का सबसे छोटा व सूर्य के सबसे निकटतम ग्रह है। बुध ग्रह को व्यापर व यात्रा का देवता माना गया है। उन्हें ग्रहपति व ग्रहों का राजकुमार भी माना गया है। बुधवार के दिन इनकी पूजा करना बहुत ही लाभकारी प्रमाणित होता है। यह भक्तों को बुद्धि व विद्या की शक्ति प्रदान करते हैं। इनकी उपासना से बुध ग्रह से सम्बंधित सभी दोषों का समापन होता है। व्यक्ति के जीवन में धन को लेकर कोई समस्या नहीं रहती है। इनकी पूजा के आशीर्वाद स्वरूप नकारात्मक प्रभावों पर नियंत्रण रहता है। बेहतर जीवन व सकारात्मक ऊर्जा की प्राप्ति के लिए बुध ग्रह की पूजा अवश्य ही करनी चाहिए।

बुध ग्रह शांति पूजा मनुष्य जीवन में बुध ग्रह का बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान है। यदि किसी व्यक्ति का बुध ग्रह मजबूत हो तो उसे संसार के सम्पूर्ण सुख की प्राप्ति होती है। वहीं यदि किसी व्यक्ति का बुध ग्रह कमजोर हो जाए तो उसपर संकटों का पहाड़ टूट पड़ता है। माना जाता है की सुख-समृद्धि से परिपूर्ण जीवन की इच्छा रखने वाले लोगों को बुध ग्रह को सदैव प्रसन्न रखना चाहिए। बुध ग्रह न केवल व्यक्ति को सुख-सुविधाओं से परिपूर्ण करता है बल्कि उन्हें मिर्गी, अस्थमा जैसी बीमारियों व त्वचा सम्बंधित समस्याओं से बचाता भी है। बुध ग्रह के शुभ प्रभाव व्यक्ति के जीवन में बहुत जरुरी होता है। इसलिए बुध ग्रह को सदैव खुश रखना चाहिए।

रविवार के दिन जगन्नाथ गंगा घाट के किनारें कराएं सूर्यनारायण नवग्रह शांति पाठ और पाएं ग्रहों के दुष्प्रभावों से निजात

ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार बुध ग्रह बुद्धि, चतुराई, कुशाग्रता एवं उचित लेखन क्षमता का शासक माना गया है। बुधवार के दिन यदि सच्चे मन से बुध ग्रह की आराधना की जाए तो व्यक्ति को इन सभी गुणों की शक्ति प्रदान होती है। बुध ग्रह की कृपा प्राप्ति व उससे आ रहे अशुभ दोषों का विनाश करने के लिए बुध यंत्र की स्थापना करनी चाहिए। उस दिन व्रत का संकल्प करके विधिवत विष्णु जी की पूजा करनी चाहिए। विष्णु जी की आराधना से भक्तों को लक्ष्मी के आगमन का भी आशीर्वाद प्राप्त होता है। गंभीर बीमारियों का कोई भय नहीं रहता। त्वचा की जुड़ी दिक्कतें भी समाप्त हो जाती है। बुध ग्रह को प्रसन्न करने का अर्थ है सुखमय जीवन के दिनों का आगमन होना।

यह भी पढ़े :-

जानिए भगवती भवानी कैसे करेंगी अपने भक्तों का उद्धार

जानिए क्या है देवी छिन्नमस्तिका की आराधना का महत्व

जानिए माँ छिन्नमस्ता क्यों कहलाईं साहस एवं बलिदान की देवी

  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X