Sawan Shivratri Pr Mahakaleshwar Mein Krayein 11 Brahmanon Dwara 11 Vishesh Vastuon Se Mahadev Ka Samuhik Rudrabhishek Evam Rudri Path
myjyotish

9818015458

   whatsapp

8595527216

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Astrology Services ›   Puja ›  

Sawan Shivratri Pr Mahakaleshwar Mein Krayein 11 Brahmanon Dwara 11 Vishesh Vastuon Se Mahadev Ka Samuhik Rudrabhishek Evam Rudri Path

सावन शिवरात्रि पर 11 ब्राह्मणों द्वारा 11 विशेष वस्तुओं से कराएं महाकाल का सामूहिक महारुद्राभिषेक एवं रुद्री पाठ - 19 जुलाई 2020

By: माई ज्योतिष विशेषज्ञ

Rs. 2,500
Buy Now

महारुद्राभिषेक के शुभ फल :-

  • घर - संपत्ति की प्राप्ति होती है। 
  • शत्रुओं का साया समाप्त होता है। 
  • समाज में मान - सम्मान की प्राप्ति होती है। 
  • दुखों का अंत होता है। 
  • लक्ष्मी का वास घर में सदैव बना रहता है।

शिव शंकर को प्रसन्न करने का एकमात्र उपाय है यह महारुद्राभिषेक , सावन शिवरात्रि पर एक बार इसे संपन्न करने से दूर हो जाती है सभी विपदाएं।  

सावन का महीना शिव माह के रुप में जाना जाता है। जिसके कारण इस माह में होने वाली शिवरात्रि महादेव के भक्तों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होती है। इसे कांवर यात्रा के समापन दिवस के रूप में भी जाना जाता है। सावन का महीना शिव भक्तों के लिए किसी वरदान से कम नहीं होता है। इस माह में शिव से मांगी गई समस्त मनोकामनाएं शीग्र ही पूर्ण होती है। इसलिए इस माह की शिवरात्रि शिव आराधना में बहुत ही अधिक महत्व रखती है। 

निम्न वस्तुओं से किया जाएगा शिव का महारुद्राभिषेक :-

  • दूध : घर का वातावरण सुखद और पवित्र रहने के लिए 
  • दही : पारिवारिक कलह और अचानक नुकसान से बचने के लिए    
  • शहद : विद्या प्राप्ति के लिए 
  • शक्कर : खुशहाली के संचार के लिए 
  • नारियल पानी : शत्रु प्रभाव व प्रेत बाधा दूर करने के लिए
  • भस्म : शत्रुओं के विनाश लिए 
  • वर्षा जल : नकारात्मक शक्तियों के नाश के लिए 
  • गन्ने का रस : लक्ष्मी प्राप्ति के लिए      
  • गंगा जल : ग्रहों द्वारा उत्पन्न दोष दूर करने के लिए 
  • भांग :सुखद स्वास्थ की प्राप्ति के लिए 
  • घी :कारोबार में अड़चनें दूर करने के लिए  

हमारी सेवाएं :-
हमारे पंडित जी द्वारा फोन पर संकल्प करवाया जाएगा। पूर्ण विधि - विधान से पूजा प्रारम्भ कर ,आपके नाम से 11 ब्राह्मणों द्वारा इन सभी वस्तुओं से शिव का रुद्राभिषेक एवं रुद्री पाठ किया जाएगा। 

प्रसाद : 

  • सूखा भोग 
  • बाबा का भस्म 
  • काला धागा ( हाथ में बांधने हेतु )

जानिये हमारे पंडित जी के बारे में

Recent Blogs



Ratings and Feedbacks


अस्वीकरण : myjyotish.com न तो मंदिर प्राधिकरण और उससे जुड़े ट्रस्ट का प्रतिनिधित्व करता है और न ही प्रसाद उत्पादों का निर्माता/विक्रेता है। यह केवल एक ऐसा मंच है, जो आपको कुछ ऐसे व्यक्तियों से जोड़ता है, जो आपकी ओर से पूजा और दान जैसी सेवाएं देंगे।

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X